Home > अंतर्राष्ट्रीय > हाफिज सईद: पाकिस्तान में हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ने नहीं ‌दिया जाएगा

हाफिज सईद: पाकिस्तान में हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ने नहीं ‌दिया जाएगा

 Special News Coverage |  2016-05-03 11:19:55.0

हाफिज सईद: पाकिस्तान में हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ने नहीं ‌दिया जाएगा

इस्लामाबाद: जमात-उद-दावा के प्रमुख और मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद ने एक बेहद अप्रत्याशित बयान देते हुए कहा है कि उसका संगठन देश में हिंदू मंदिरों व उनके अन्य धार्मिक स्थलों को खत्म करने की अनुमति नहीं देगा। यहां हिंदुओं के पवित्र स्थलों की सुरक्षा की जिम्मेवारी मुस्लिमों की है। सिंध प्रांत के मतली शहर में एक एक सभा को संबोधित करते हुए सईद ने कहा कि मुस्लिमों की ये जिम्मेदारी है कि वे अपने हिंदू भाईयों के पवित्र स्थलों की रक्षा करें।


हाफिज सईद ने कहा कि देश में गैर मुस्लिमों के धार्मिक स्थलों को ध्वस्त करने का काम बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। हाफिज सईद ने उन आरोपों को भी स्वीकार नहीं किया जिसमें कहा गया था कि सिंध प्रांत के थार में कट्टरता को बढ़ावा देने की बात कही गई है। सिंध प्रांत भारत के बॉर्डर से लगा हुआ इलाका है।

रिपोर्ट के अनुसार सईद ने कश्मीरी मुस्लिमों के प्रति समर्थन का संकल्प जताया। सईद ने कहा कि कानून प्रवर्तन एजेंसियां राज्य विरोधी तत्वों एवं रॉ के खिलाफ गंभीरता से लड़ने का प्रयास कर रही हैं लेकिन नवाज शरीफ सरकार इस मुददे पर मूक बनी हुई है।

वहीं पेशावर स्थित जमात उद दावा संचालित एक मदरसे पर अज्ञात व्यक्तियों ने गोलीबारी की और उसके बाद उस पर हथगोले फेंके जिसमें तीन बच्चों सहित कम से कम 15 व्यक्ति घायल हो गए। पुलिस अधीक्षक कशिफ जुल्फिकार ने कहा, ‘‘हमलावरों ने बैतुल मुकर्रम अलहदीस मदरसे पर गोलीबारी की और उसके बाद उस पर हथगोला फेंका। मदरसे के सदस्य रविवार (1 मई) रात अध्ययन के बाद रात्रि भोजन कर रहे थे तभी हमलावरों ने इमारत पर हमला किया।

एक स्थानीय अस्पताल ने कहा कि उनके अस्पताल में मदरसे पर हमला मामले में 16 घायल व्यक्ति आये हैं। इसमें से चार को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई जबकि 11 का अस्पताल मे इलाज चल रहा है।

Tags:    
Share it
Top