Home > अंतर्राष्ट्रीय > अगर भारत का राष्ट्रपति मुस्लिम बन सकता है पाक में हिन्दू क्यों नहीं - विलावल भुट्टो

अगर भारत का राष्ट्रपति मुस्लिम बन सकता है पाक में हिन्दू क्यों नहीं - विलावल भुट्टो

 Special News Coverage |  2016-03-25 11:30:38.0



BILAWAL (1)अगर भारत का राष्ट्रपति मुस्लिम बन सकता है पाक में हिन्दू क्यों नहीं - विलावल भुट्टो
उमर कोट
पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के चेयरमैन बिलावल भुट्टो ज़रदारी ने कहा कि अगर भारत में एक मुसलमान राष्ट्रपति हो सकता है तो कोई हिंदू पाकिस्तान में क्यों नहीं बन सकता। उमर कोट में एक रैली को संबोधित करते हुए बिलावल भुट्टो ने अल्पसंख्यकों को होली की मुबारकबाद भी दी।
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी रंग, नस्ल या धर्म के आधार पर लोगों के साथ भेदभाव की पक्षधर नहीं है। हम ग़रीबों और अल्पसंख्यकों के अधिकारों के समर्थक हैं। कुछ महीने पहले सिंध प्रांत की असेंबली में हिंदू मैरिज एक्ट पास हुआ है।



बिलावल ने कहा कि पाकिस्तान के 68 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि अल्पसंख्यकों को कानूनी अधिकार देने के लिए कोई बिल पास किया गया। उन्होंने यह एलान भी किया कि जल्द ही अल्पसंख्यकों के जबरन धर्मांतरण के खिलाफ कानून बनाकर उन्हें मज़बूत बनाएंगे।


भुट्टो ने कहा कि हम लोगों को अमीर-ग़रीब, अल्पसंख्यक-बहुसंख्यक और हिंदू-मुस्लिम में नहीं बंटने देंगे। हम सभी के लिए एक एकीकृत पाकिस्तान बनाएंगे। अल्पसंख्यकों के लिए सभी क्षेत्र में समान अधिकार और अवसर की बात भी उन्होंने की।

इससे पहले सिंध प्रांत की सरकार ने 16 मार्च को अल्पसंख्यकों के त्यौहार होली, दीवाली और ईस्टर के लिए सार्वजनिक अवकाश का बिल पारित करने के साथ-साथ नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया था।

Tags:    
Share it
Top