Home > अंतर्राष्ट्रीय > NSG मेंबरशिप: प्रणब के दौरे से पहले चीन ने फिर किया भारत का विरोध

NSG मेंबरशिप: प्रणब के दौरे से पहले चीन ने फिर किया भारत का विरोध

 Special News Coverage |  2016-05-24 07:50:31.0

pranab mukherjee visit china oppose india on nsg membership

बीजिंग: चीन ने न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप (एनएसजी) मेंबरशिप को लेकर भारत पर निशाना साधा है। चीन ने ये उस वक्त किया है जब भारत के राष्ट्रपति 4 दिन के दौरे पर चीन पहुंचने वाले हैं। चीन ने भारत के तर्क का विरोध करते हुए कहा है कि फ्रांस एनएसजी का फाउंडर मेंबर है। लिहाजा उसका भारत की मेंबरशिप को मान्यता देना मायने नहीं रखता। चीन ने कहा, 'भारत को एनएसजी मेंबरशिप हासिल करने के लिए भरोसा हासिल करना चाहिए। ये बेहतर होगा कि भारत पहले एनपीटी पर साइन करे।


इससे पहले पाकिस्तान ने भी एनएसजी मेंबरशिप लेने के लिए चीन की मदद ली थी। पाकिस्तान का दावा था कि वह चीन के सपोर्ट से 48 मेंबर वाले ग्रुप को ज्वॉइन करेगा। चीन के फॉरेन मिनिस्ट्री की स्पोक्सपर्सन हुआ चुनयिंग के मुताबिक, 'जो भी नए मेंबर एनएसजी ज्वॉइन करेंगे, उनका एनपीटी पर साइन करना जरूरी है।' हुआ ने भारत के उस तर्क का विरोध किया, जिसमें कहा गया था कि फ्रांस एनएसजी में बिना एनपीटी पर साइन किए हुए शामिल था।

चीन ने भारत से कहा, 'जब फ्रांस ने एनएसजी ज्वॉइन किया था, तब वह एनपीटी का हिस्सा नहीं था।' 'फ्रांस, एनएसजी का फाउंडर मेंबर है। इस लिहाज से उसका किसी की मेंबरशिप को मान्यता बहुत मायने नहीं रखता।' हुआ के मुताबिक, 'एनएसजी में किसी देश की मौजूदगी ये बताती है कि वह परमाणु अप्रसार (नॉन-प्रोलिफिरेशन) के लिए काम करेगा। पिछले साल हुए एनपीटी के रिव्यू कन्वेंशन में भी ये बात कही गई थी।' 'इसी के मद्देनजर चीन चाहता है कि एनएसजी का कोई भी नया मेंबर एनपीटी पर साइन करके ही इसमें शामिल हो।'

20 मई को भारतीय फॉरेन मिनिस्ट्री के स्पोक्सपर्सन विकास स्वरूप ने कहा था, 'एनएसजी एटॉमिक मटेरियल के एक्सपोर्ट पर कंट्रोल रखता है। फ्रांस कुछ समय के लिए एनपीटी मेंबर नहीं होने के बावजूद एनएसजी में शामिल था।'

चीन लगातार ये कह रहा है कि किसी देश को उसी स्थिति में एनएसजी की मेंबरशिप मिलनी चाहिए जब वह एनपीटी पर साइन करे। प्रणब मंगलवार को चीन के लिए रवाना होंगे। पहले वे चीन के गुआंगझोउ पहुंचेंगे। 25 मई को वे बीजिंग में होंगे। 4 दिन के चीन दौरे में वे शी जिनपिंग समेत कई नेताओं से मुलाकात करेंगे।

Tags:    
Share it
Top