हाफिज ने एक और ट्वीट में कहा कि, "भारत मुंबई हमले का सबूत देने में नाकाम रहा है। वहीं, मोदी ने खुद ही 1971 को सबसे खतरनाक आतंकवाद कबूल किया है।" 1971 के आतंकवाद से हाफिज का मतलब भारत-पाकिस्तान जंग से है।

हाफिज के इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री जितेंद्र मंत्री ने कहा है कि किसी भी व्यक्ति के दिए बयान का दोनों देशों की वार्ता पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। उन्होंने कहा कि भारत किसी भी तरह की धमकी से निपटने के लिए पूरी तरह से काबिल है। जीतेंद्र सिंह ने हाफिज सईद की चुनौती को बकवास करार दिया। उन्होंने कहा कि भारत किसी भी हालात का सामना करने के लिए तैयार है।

भारत हाफिज सईद को लेकर पाकिस्तान को कई डोजियर सौंप चुका है। लेकिन पाकिस्तान ने सईद पर कोई ठोस कार्रवाई कभी नहीं की। पाकिस्तान ने हमेशा कहा कि सईद के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं हैं, इसलिए उसे जेल में नहीं रखा जा सकता।", | "url" : "http://specialcoveragenews.in/international-news/story-world-hafiz-saeed-mocks-india-says-no-concrete-proof-in-26-11-attacks-even-after-7-years-hindi-news-30847/", | "publisher" : { | "@type" : "Organization", | "name" : "Special Coverage News", | "logo" : { | "@context" : "http://schema.org", | "@type" : "ImageObject", | "contentUrl" : "http://specialcoveragenews.in/images/logo.png", | "height": "150", | "width" : "50", | "url" : "http://specialcoveragenews.in/images/logo.png" | } | }, | "mainEntityOfPage": { | "@type": "WebPage", | "@id": "http://specialcoveragenews.in/international-news/story-world-hafiz-saeed-mocks-india-says-no-concrete-proof-in-26-11-attacks-even-after-7-years-hindi-news-30847/" | } | }
Home > अंतर्राष्ट्रीय > आतंकी हाफिज सईद बोला, मुबंई हमले को कयामत तक साबित नहीं कर पाओगे

आतंकी हाफिज सईद बोला, मुबंई हमले को कयामत तक साबित नहीं कर पाओगे

 Special News Coverage |  2015-12-14 07:11:48.0

hafiz saeed



इस्लामाबाद : 26/11 मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड और आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद ने मुंबई हमलों को लेकर भारत को चुनौती दी है। हाफिज ने कहा कि मुंबई हमलों को सात साल हो गए लेकिन साबित नहीं कर सके. कयामत तक साबित नहीं कर सकते।

हाफिज ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया जिसमें वो मुंबई हमलों को लेकर भारत को चुनौती देता नजर आ रहा है। हाफिज ने वीडियो में यह भी कहा कि इन्होंने (पाकिस्तान सरकार) तो कुछ नहीं कहा, सुषमा को जवाब मैं देता हूं, ओ सुन, तुम मुंबई अटैक को सात साल हो गए साबित नहीं कर सके, कयामत तक इंशा अल्लाह साबित नहीं कर सकते।





हाफिज ने एक और ट्वीट में कहा कि, "भारत मुंबई हमले का सबूत देने में नाकाम रहा है। वहीं, मोदी ने खुद ही 1971 को सबसे खतरनाक आतंकवाद कबूल किया है।" 1971 के आतंकवाद से हाफिज का मतलब भारत-पाकिस्तान जंग से है।

हाफिज के इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री जितेंद्र मंत्री ने कहा है कि किसी भी व्यक्ति के दिए बयान का दोनों देशों की वार्ता पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। उन्होंने कहा कि भारत किसी भी तरह की धमकी से निपटने के लिए पूरी तरह से काबिल है। जीतेंद्र सिंह ने हाफिज सईद की चुनौती को बकवास करार दिया। उन्होंने कहा कि भारत किसी भी हालात का सामना करने के लिए तैयार है।

भारत हाफिज सईद को लेकर पाकिस्तान को कई डोजियर सौंप चुका है। लेकिन पाकिस्तान ने सईद पर कोई ठोस कार्रवाई कभी नहीं की। पाकिस्तान ने हमेशा कहा कि सईद के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं हैं, इसलिए उसे जेल में नहीं रखा जा सकता।

Share it
Top