Home > अंतर्राष्ट्रीय > कैलिफोर्निया : अज्ञात हमलावरों की गोलीबारी से 14 की मौत, दो हमलावर भी ढेर

कैलिफोर्निया : अज्ञात हमलावरों की गोलीबारी से 14 की मौत, दो हमलावर भी ढेर

 Special News Coverage |  2015-12-03 05:17:56.0

california


लॉस ऐंजलिस : अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित सैन बर्नाडिनो में कुछ हमलावरों ने बुधवार को एक कम्युनिटी सेंटर पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इसमें 14 लोगों की मौत हुई है। 20 लोग घायल भी हुए हैं। जवाबी कार्रवाई में दो हमलावर मारे गए। इनमें एक महिला भी शामिल है। वहीं, पुलिस ने हमले के बाद भागते तीसरे संदिग्ध को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक, अभी ये साफ नहीं है कि वो शूटिंग में शामिल था या नहीं।

शहर के दमकल विभाग ने ट्विटर पर लिखा, ‘एसबीएफडी यूनिट एस वाटरमैन में गोलीबारी में 20 लोगों के हताहत होने की घटना में जवाबी कार्रवाई कर रही है। एसबीपीडी घटनास्थल पर मौजूद है।’ पुलिस ने बताया कि लॉस एंजिलिस के पूर्व में करीब एक घंटे की दूरी पर स्थित शहर में एक बंदूकधारी मौजूद है। वे संदिग्धों की तलाश कर रहे हैं। अब तक घायलों में से कई की मौत हो चुकी है। इस शहर की आबादी करीब 2.14 लाख है।


अमेरिकी पुलिस ने पत्रकारों को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया है कि हमलावर एक एसयूवी में आए थे। इलाके के सभी स्कूलों और इमारतों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है और हॉस्पिटलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। पुलिस ने कहा है कि अभी हमले के मकसद के बारे में पता नहीं लग सका है।

दर्जनों लोगों को इस इलाके में एक इमारत से निकलते देखा गया, जिसे सशस्त्र पुलिस बलों ने घेर रखा था। गोलीबारी की घटना एक गोल्फ कोर्स के समीप हुई जहां एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि कर्मचारियों को अपने सभी काम रोकने को कहा गया। इस इलाके में कई कार्यालय और औद्योगिक इमारतें हैं। इस घटना से कुछ ही दिन पहले कोलोरैडो के एक क्लीनिक में एक बंदूकधारी ने तीन लोगों को मार डाला था।

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कैलि‍फोर्निया में हुई गोलीबारी के बाद इस हमले की निंदा की है और एक बार फिर बंदूकों पर नियंत्रण का आह्वान किया। ओबामा ने सीबीएस न्यूज से कहा, ‘एक बात हम जानते हैं कि जिस तरह से इस देश में जनसमूहों पर गोलीबारी हो रही है, ऐसा दुनिया में कहीं और नहीं होता। हम कुछ कदम उठा सकते हैं। इससे जनसमूहों पर होने वाली गोलीबारी की सभी घटनाओं पर रोक नहीं लग सकती लेकिन इससे इतना सुधार तो आ ही सकता है कि ये इतनी जल्दी-जल्दी न हों।

Tags:    
Share it
Top