Home > अंतर्राष्ट्रीय > चीन सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, 6000 से ज्यादा अधिकारी किए अरेस्ट, वजह जानकर चौक जाएंगे

चीन सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, 6000 से ज्यादा अधिकारी किए अरेस्ट, वजह जानकर चौक जाएंगे

चीन सरकार ने एक मामले में अपने अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने अपने 6000 से ज्यादा अधिकारी को हिरासत में ले लिया है। वजह जानकर चौक जाएंगे...

 Vikas Kumar |  2017-12-23 06:02:26.0  |  चीन

चीन सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, 6000 से ज्यादा अधिकारी किए अरेस्ट, वजह जानकर चौक जाएंगे

चीन : चीन सरकार ने एक मामले में अपने अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने अपने 6000 से ज्यादा अधिकारी को हिरासत में ले लिया है। यही नहीं इन अधिकारियों पर 8.33 करोड़ डॉलर का जुर्माना भी लगाया है।

आप सोच रहे होंगे की सरकार ने इतनी बड़ी संख्या में अपने अधिकारियों को क्यों अरेस्ट किया है। तो बता दें सरकार ने ये सख्त रुख पर्यावरण को नुकसान पहुंचानेवालों के खिलाफ अपनाया है। प्रांतीय स्तर के 8 इलाकों में सरकार ने कार्रवाई करते हुए 6,471 अधिकारियों को हिरासत में लिया है।

दरअसल चीन में बढ़ रहे प्रदुषण को ध्यान में रखते हुए पर्यावरण संरक्षण मंत्रालय ने एक अभियान चलाया। जिसके तहत ऐसे अधिकारियों को खोजा गया जो पर्यावरण को बचाने के लिए अपना काम ठीक ढंग से नहीं कर रहे।

योजना के तहत कई क्षेत्रों का निरिक्षण किया गया। पर्यावरण निरीक्षण का काम जिलिन, झेजियांग, शेडोंग, हैनान, सिचुआन, तिब्बत, क़िंगहाई और झिंजियांग प्रांतों में किया गया। इस दौरान मंत्रालय ने हवा और जल प्रदूषण, पर्यावरण के बुनियादी ढांचे में कमी जैसी कई पर्यावरणीय समस्याओं के लिए स्थानीय सरकारों की आलोचना की।

पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने पर 8 इलाकों के 6,471 अधिकारियों को हिरासत में ले लिया है। और उनपर 8.33 करोड़ डॉलर का जुर्माना भी लगाया है। पर्यावरण संरक्षण मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए ये जानकारी दी। पर्यावरण निरीक्षण के चौथे दौर के बाद निरीक्षकों ने 424 अन्य को भी हिरासत में लिया और उन पर 547.6 मिलियन युआन (83.3 मिलियन डॉलर) का जुर्माना लगाया।

साथ ही पर्यावरण संरक्षण मंत्रालय ने इन क्षेत्रों को 30 दिन के अंदर राज्य परिषद को समस्याओं के समाधान की रिपोर्ट पेश करने के भी निर्देश दिए।

Tags:    
Vikas Kumar

Vikas Kumar

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top