Home > राष्ट्रीय > रेल मंत्री पीयूष गोयल की चेतावनी, 'अगर ट्रेनें लेट हुई तो अधिकारियों के प्रमोशन पर लगेगा ब्रेक'

रेल मंत्री पीयूष गोयल की चेतावनी, 'अगर ट्रेनें लेट हुई तो अधिकारियों के प्रमोशन पर लगेगा ब्रेक'

रेल मंत्री ने रेलवे के सभी मंडलों के प्रमुखों को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर रेलवे की सेवाओं में देरी होती है, तो इसका सीधा असर उनके अप्रेज़ल पर पड़ेगा.

 Arun Mishra |  2018-06-03 13:48:03.0  |  दिल्ली

रेल मंत्री  पीयूष गोयल की चेतावनी, अगर ट्रेनें लेट हुई तो अधिकारियों के प्रमोशन पर लगेगा ब्रेक

नई दिल्ली : ट्रेनों की लेटलतीफी अब रेलवे अधिकारियों पर भारी पड़ने वाली है. ट्रेनों के समय पर नहीं चलने से संबंधित आला अधिकारियों का प्रमोशन प्रभावित हो सकता है. रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे अधिकारियों और जोनल प्रमुखों को ये चेतावनी दी है.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे के सभी मंडलों के प्रमुखों को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर रेलवे की सेवाओं में देरी होती है, तो इसका सीधा असर उनके अप्रेज़ल पर पड़ेगा. रेल मंत्रालय ने अधिकारियों को ट्रेनों का संचालन समय पर हो यह सुनिश्चित करने के लिए एक महीने का समय दिया है.

पिछले हफ्ते एक विभागीय बैठक में गोयल ने इस मुद्दे को लेकर जोनल महाप्रबंधकों को आगाह किया. रेल मंत्री ने कहा कि रेल सेवाओं में देरी के लिए अधिकारी मेंटेनेंस का बहाना नहीं बना सकते.
रेल मंत्रालय के सूत्रों ने बताया, "रेल मंत्री ने साफ किया है कि 30 जून तक अगर उन्हें कोई सुधार नज़र नहीं आया, तो संबंधित अधिकारियों के प्रमोशन पर विचार नहीं किया जाएगा." सूत्र के मुताबिक, "बैठक के दौरान रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हर एक मंडल अधिकारी को व्यक्तिगत तौर पर बुलाया. उनसे सीधी बात की.
सूत्रों ने कहा, 'रेल मंत्री ने ट्रेनों में देरी की आलोचना की, लेकिन वह यह भी समझते हैं कि बड़ी मात्रा में पटरियों को बदले जाने का कुछ खामियाजा भी है. हालांकि, अनुशासन का आंकड़ा उनकी अपेक्षा से बहुत ही खराब है. स्पष्ट रूप से जोनल अधिकारी अपनी नाकामी और अयोग्यता को छुपाने के लिए रखरखाव काम को बहाने के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं. ' (एजेंसी इनपुट के साथ)

Tags:    
Share it
Top