Home > अंतर्राष्ट्रीय > मैथ्यू का कहर : 800 से ज्यादा लोगों की मौत, 3800 से ज़्यादा उड़ानें रद्द

मैथ्यू का कहर : 800 से ज्यादा लोगों की मौत, 3800 से ज़्यादा उड़ानें रद्द

 Special Coverage News |  2016-10-08 06:45:00.0  |  New Delhi

मैथ्यू का कहर : 800 से ज्यादा लोगों की मौत, 3800 से ज़्यादा उड़ानें रद्द

फ्लोरिडा : कैरेबियाई देश हैती में भारी तबाही मचाने के बाद चक्रवाती तूफ़ान 'मैथ्यू' अमेरिका पहुंच गया है। इसके चलते अमेरिका में 3800 से ज़्यादा उड़ानों को रद्द करना पड़ा है। अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत के पॉम बीच और केप केनवेरेल के बीच विनाशकारी तूफ़ान के टकराने की आशंका से एहतियात बरतते हुए तटीय इलाके पहले ही खाली करा लिए गए थे। तूफ़ान के कारण फ्लोरिडा में 195 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं और भारी बारिश हो रही है। अमेरिका के जॉर्जिया और साउथ कैरोलिना प्रांत में भी तूफ़ानी हवाएं चल रही हैं। इसकी वजह से फोर्ट लाइड र्डेल हॉलीवुड एयरपोर्ट को 2005 के बाद पहली बार बंद किया गया है।
फ्लोरिडा से पहले 'मैथ्यू' तूफ़ान ने सबसे ज़्यादा नुकसान हैती के ग्रामीण इलाकों में पहुंचाया। तूफ़ान की वजह से हैती में 800 से ज़्यादा लोगों ने अपनी जान गंवाई है। तूफान की वजह से फ्लोरिडा के तटीय इलाकों को भारी बारिश और तेज हवाओं ने बेहाल कर दिया। इसकी वजह से करीब 3 लाख से ज्यादा घरों और व्यवसायों को बिजली नहीं मिली। तूफान से अटलांटिक तट पर एक दशक में सबसे ज्यादा शक्तिशाली खतरे की आशंका है।
राष्ट्रीय मौसम सेवा के अनुसार, तूफान आईवाल के पश्चिमी किनारे से करीब 170 मील दूर जैकसोनविली के दक्षिणी-दक्षिणपूर्व में था। इसके उत्तर-पश्चिम में शुक्रवार को आगे बढ़ने और शुक्रवार की रात उत्तर में जाने की उम्मीद है। यह तट के समानांतर चल रहा है। राष्ट्रीय मौसम सेवा की भविष्यवाणी के अनुसार, भारी खतरनाक इस तूफान से तटीय इलाकों में करीब 8 से 12 इंच बारिश होने संभावना है।
तूफान से हैती में बुरी तरह से बुनियादी ढांचा क्षतिग्रस्त हो गया है और हजारों की संख्या में लोग विस्थापित हुए हैं। संयुक्त राष्ट्र के उप महासचिव और हैती के प्रमुख प्रतिनिधि मोराड वहबा ने इसे साल 2010 के भूकंप के बाद सबसे बड़ी आपदा बताया।

Tags:    
Share it
Top