Home > अंतर्राष्ट्रीय > माता-पिता ने गुस्से में सात वर्षीय मासूम को, भालुओं से भरे जंगल में छोड़ा

माता-पिता ने गुस्से में सात वर्षीय मासूम को, भालुओं से भरे जंगल में छोड़ा

 Special Coverage news |  2016-06-02 13:00:27.0  |  नई दिल्ली

माता-पिता ने गुस्से में सात वर्षीय मासूम को, भालुओं से भरे जंगल में छोड़ा

टोक्यो: एक जापानी माता-पिता ने अपने बच्चे को सजा देने के लिए घने जंगल के पास छोड़ दिया। जहां जंगली भालुओं का खतरा रहता है। जब माता-पिता को अपनी गलती का अहसास हुआ। तो बच्चे को लेने के लिए जगल में पहुंचे तो वह अपनी जगह पर नहीं मिला अब वे उसके लिए परेशान हैं।

सजा देने के लिए अपने सात वर्षीय के बच्चे को जंगल में छोड़ आए माता-पिता अब उसे ढूंढने के लिए परेशान है और इसके लिए जमीन आसमान एक कर दिया है। शुरुआत में तो उन्होंने पुलिस से सच छिपाया और कहा कि बच्चा खो गया है पर बाद में उन्होंने अपनी गलती पुलिस के सामने स्वीकार की है।जापानी राहतकर्मियों ने घने जंगल में सात वर्षीय बच्चे की खोज शुरू की है।

जापान के होक्कैडो के मुख्य उत्तरी आइलैंड में जंगली भालुओं वाले जंगल में सात वर्षीय यामाटो तानुका खो गया है। शनिवार को अपने माता-पिता व बड़ी बहन के साथ जंगल के नजदीक एक पार्क में तानुका आया था। लेकिन तानुका के कार व लोगों पर पत्थर फेंकने से माता-पिता गुस्सा हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार वापस घर लौटते हुए उन्होंने तानुका को कार से उतार कर अकेले ही जंगल में छोड़ दिया। लोकल पुलिस ने एएफपी को बताया कि वे तुरंत वापस गए परन्तु मासूम वहा नही मिला था। करीब 180 राहतकर्मी, सूंघ कर पता लगाने वाले कुत्ते, घोड़े व पुलिस अधिकारी उस एरिया में बच्चे को खोज रहे हैं। इसके अलावा जंगल की घनी झाडियों के ऊपर से हेलीकॉप्टर भी बच्चे का पता लगाने की कोशिश में जुटे गए है।

Tags:    
Share it
Top