Home > अंतर्राष्ट्रीय > कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला 2016 का शांति का नोबेल पुरस्कार

कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला 2016 का शांति का नोबेल पुरस्कार

 Special Coverage News |  2016-10-07 12:41:23.0  |  New Delhi

कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला 2016 का शांति का नोबेल पुरस्कार

कोलंबिया : नोबेल समिति ने 2016 के नोबेल पुरस्कार की घोषणा कर दी है। इस साल शांति के नोबेल पुरस्कार के लिए 376 नॉमिनेशन हुए थे। यह बहुप्रतीक्षित पुरस्कार कोलंबिया के नेता और राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को मिला है। राष्ट्रपति सैंटोस को कोलंबिया शांति समझौता के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया गया।

नोबेल समिति के अनुसार, कोलंबिया के राष्ट्रपति ह्वान मानवल को अपने देश में 50 साल से चल रहे गृह युद्ध को खत्म करने और शांति स्थापित करने के प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया है। कोलंबिया के राष्ट्रपति ​ह्वान और फार्क (FARC) नेता करीब चार साल से जारी वार्ताओं के दौर के बाद समझौते तक पहुंचे थे। कोलंबिया में सरकारी सेनाओं के खिलाफ करीब 5 दशक से लड़ रहा लैटिन अमेरिका का सबसे बड़ा और सबसे पुराना गुरिल्ला संगठन फार्क हिंसक संघर्ष को खत्म करने के लिए सहमत हो गया था।

कोलंबिया का गृह युद्ध दुनिया के सबसे जानलेवा संघर्षों में गिना जाता है। 1964 में शुरू हुई इस लड़ाई के अंत तक करीब दो लाख बीस हजार लोगों की जानें जा चुकी हैं और 80 लाख लोग विस्थापित हुए। हालांकि कोलंबिया में वामपंथी विद्रोही लड़ाकों के साथ शांति समझौते को जनमत संग्रह में ठुकरा दिया गया है। बहुत से कोलंबियाई लोगों का कहना है कि शांति समझौते में फार्क को लेकर नरमी बरती गई।

वैसे तो इस पुरस्कार को जीतने वालों की औसत उम्र 61 है कि इस पुरस्कार को पाने वाले अधिकांश लोग 50, 60 या 70 वर्ष के उम्रदराज लोग रहे हैं। इस पुरस्कार को सबसे कम उम्र में पाने वाली लड़की मलाला रही है। मलाला को यह पुरस्कार महज 17 साल की उम्र में मिल गया था। भारत के कैलाश सत्यार्थी भी मलाला के साथ साझे रूप से इस पुरस्कार को पा चुके हैं।

Tags:    
Share it
Top