एयरफोर्स के हमले के शिकार हुए पाकिस्तानी पश्तून ने बताया कि पाक सरकार ने अचानक बिना किसी चेतावनी के बमबारी शुरू कर दी। हमें नहीं बताया गया था कि हम कहां जाएं। उनका कहना है कि लगातार हमलों की वजह से न केवल उनकी जिंदगी, बल्कि संपत्ति और मवेशियों को भी नुकसान पहुंचा है। पश्तूनों ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान इस जंग को बीते चालीस साल से उनपर थोपे हुआ है।

वही पाकिस्तानी सेना दावा कर रही है कि वे तालिबान के पीछे हैं और इस वजह से वो सब कुछ बर्बाद कर रहे हैं, जो उनके रास्ते में आ रहा है। इस कार्रवाई की वजह से पाकिस्तानी कारोबारियों ने लाखों की रकम गंवा दीं। जो चल तक नहीं सकते, उन्हें जान बचाने के लिए भागना पड़ा। एक शरणार्थी ने कहा, आप लोग यह अच्छे से जानते हो कि ये कथित आतंकी कहां छिपे हैं और कहां से ऑपरेट कर रहे हैं। वे इस्लामाबाद और कराची में छिपे हुए हैं।
", | "url" : "http://specialcoveragenews.in/news/international-news/pakistani-air-force-targeted-thousands-of-pakistani-pashtuns-54273", | "publisher" : { | "@type" : "Organization", | "name" : "Special Coverage News", | "logo" : { | "@context" : "http://schema.org", | "@type" : "ImageObject", | "contentUrl" : "http://specialcoveragenews.in/images/logo.png", | "height": "150", | "width" : "50", | "url" : "http://specialcoveragenews.in/images/logo.png" | } | }, | "mainEntityOfPage": { | "@type": "WebPage", | "@id": "http://specialcoveragenews.in/news/international-news/pakistani-air-force-targeted-thousands-of-pakistani-pashtuns-54273" | } | }
Home > अंतर्राष्ट्रीय > पाक एयरफोर्स अपनों पर ही बरसा रहा बम, हजारों बेघर पश्तून भागे

पाक एयरफोर्स अपनों पर ही बरसा रहा बम, हजारों बेघर पश्तून भागे

 Special Coverage News |  2016-10-15 06:15:32.0  |  वजीरिस्तान

पाक एयरफोर्स अपनों पर ही बरसा रहा बम, हजारों बेघर पश्तून भागे

वजीरिस्तान: पाकिस्तानी एयरफोर्स की ओर से अफगानिस्तान से सटी सीमा पर आतंकियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान 'जर्ब-ए-अज्ब' की वजह से हजारों लोगों की जानें जा चुकी हैं। उत्तरी वजीरिस्तान में चलाए जा रहे इस अभियान की वजह से हजारों पश्तून बेघर हो चुके हैं। इन पश्तूनों ने अब अफगानिस्तान में शरण ली है।


एयरफोर्स के हमले के शिकार हुए पाकिस्तानी पश्तून ने बताया कि पाक सरकार ने अचानक बिना किसी चेतावनी के बमबारी शुरू कर दी। हमें नहीं बताया गया था कि हम कहां जाएं। उनका कहना है कि लगातार हमलों की वजह से न केवल उनकी जिंदगी, बल्कि संपत्ति और मवेशियों को भी नुकसान पहुंचा है। पश्तूनों ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान इस जंग को बीते चालीस साल से उनपर थोपे हुआ है।

वही पाकिस्तानी सेना दावा कर रही है कि वे तालिबान के पीछे हैं और इस वजह से वो सब कुछ बर्बाद कर रहे हैं, जो उनके रास्ते में आ रहा है। इस कार्रवाई की वजह से पाकिस्तानी कारोबारियों ने लाखों की रकम गंवा दीं। जो चल तक नहीं सकते, उन्हें जान बचाने के लिए भागना पड़ा। एक शरणार्थी ने कहा, आप लोग यह अच्छे से जानते हो कि ये कथित आतंकी कहां छिपे हैं और कहां से ऑपरेट कर रहे हैं। वे इस्लामाबाद और कराची में छिपे हुए हैं।

Tags:    
Share it
Top