Home > राष्ट्रीय > इराक में लापता 39 भारतीयों को बिना सूबत नहीं बता सकती मृत, नहीं बनूंगी पाप की भागीदार: सुषमा स्वराज

इराक में लापता 39 भारतीयों को बिना सूबत नहीं बता सकती मृत, नहीं बनूंगी पाप की भागीदार: सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज लोकसभा में इराक में लापता 39 भारतीयों के मुद्दे पर अपना जवाब दिया।

 Ekta singh |  2017-07-26 09:31:20.0  |  नई दिल्ली

इराक में लापता 39 भारतीयों को बिना सूबत नहीं बता सकती मृत, नहीं बनूंगी पाप की भागीदार: सुषमा स्वराज

नई दिल्ली: संसद के मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा और लोकसभा दोनों सदनों में हंगामा देखने को मिला। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज लोकसभा में इराक में लापता 39 भारतीयों के मुद्दे पर अपना जवाब दिया। सुषमा ने कहा कि उनके पास 39 भारतीयों के मारे जाने या फिर जिंदा होने का कोई ठोस सबूत नहीं है। जब तक उनके पास कोई सबूत नहीं आता है तब तक वह कोई ठोस जवाब नहीं दे सकती हैं।

बता दे कि सुषमा स्वराज ने अपने बयान में कहा कि बिना किसी सबूत के किसी को मृत घोषित करना पाप है, मैं ये पाप बिल्कुल भी नहीं करुंगी। मुझ पर गुमराह करना का आरोप लगाना गलत है। मैंने जो कुछ भी किया है सदन को विश्वास में लेकर किया है। विदेश मंत्री ने कहा कि जानकारी मिलने के बाद मोसुल के आस-पास तलाशी की गई और मैंने जो कुछ भी किया है वह सदन को विश्वास में लेकर किया।

उन्होंने कहा कि 24 नवंबर 2014 को मैंने कहा था कि एक व्यक्ति कह रहा है कि वो मार दिए गए हैं, जबकि सूत्रों का कहना है कि वो लोग जिंदा हैं तो मुझे क्या उन्हें ढूंढना नहीं चाहिए। हमारे सूत्र ऐसे वैसे नहीं हैं हमें एक देश के राष्ट्रपति, एक देश के विदेश मंत्री ने ये बताया है। मैं 12 बार पीड़ितों के परिवार से मिली हूं, मैंने हर बार कहा कि मेरे पास उनके जीवित रहने की कोई जानकारी नहीं है, मैं सूत्रों के हवाले से ये कह रही हूं। उनकी फाइल तब तक बंद नहीं कर सकते हैं जब तक कोई सबूत ना हो।

Tags:    
Share it
Top