Home > राष्ट्रीय > मोदी के मुरीद हुए बिल गेट्स, कहा- उन्होंने वो कर दिखाया जो किसी ने सोचा भी नहीं..

मोदी के मुरीद हुए बिल गेट्स, कहा- उन्होंने वो कर दिखाया जो किसी ने सोचा भी नहीं..

 Arun Mishra |  2017-04-26 05:16:32.0  |  New Delhi

मोदी के मुरीद हुए बिल गेट्स, कहा- उन्होंने वो कर दिखाया जो किसी ने सोचा भी नहीं..

नई दिल्ली : पीएम मोदी के 'स्वच्छ भारत अभियान' की देश में ही नहीं अपितु बिदेशों में भी तारीफ़ हो रही है। अब माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स भी पीएम मोदी के मुरीद हो गए हैं। स्वच्छता पर जोर देने और खुले में शौच को बंद करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिल गेट्स ने काफी तारीफ की है। उन्होंने एक ब्लॉग में लिखा है कि पीएम मोदी ने एक ऐसी समस्या को उठाया, जिसके बारे में हम सोचना तक पसंद नहीं करते हैं।

दरअसल हाल ही में बिल गेट्स ने एक ब्लॉग लिखा है जिसमें उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए लिखा है । कि जिस समस्या के बारे में हम सोचना तक पसंद नहीं करते उसके बारे में करीब तीन साल पहले भारत ने प्रधानमंत्री ने जन स्वास्थय को लेकर एक ऐसी साहसिक टिप्पणी की जो आज तक किसी भी निर्वाचित सदस्यों के मुंह से नहीं निकली है। जिसका असर आज के समय में काफी देखने को मिल रहा है।

पीएम मोदी के भाषण के कुछ अंश लिखे
इतना ही नहीं बिल गेट्स ने अपने ब्लॉग में पीएम मोदी के भाषण के कुछ मुख्य अंशों का भी जिक्र किया । उन्होंने लिखा - हम 21 वीं सदी में रह रहे है। लेकिन क्या हमने ये सोचने की तकलीफ की आखिरी हमारी माताएं और बहनें खुले में शौच करने के लिए क्यों मजबूर है? गांव की महिला शौच जाने के लिए रात होने का इंतजार करती है जिसके चलते उनके शरीर पर इसका कितना घेरा असर होता होगा और कितनी बीमारियों का सामना उनको करना पड़ता होगा। ऐसे में क्या हम अपनी मां औऱ बहनों की मर्यादा को ध्यान में रखते हुए उनकी इस समस्यो को हल करने के लिए एक शौचालय नहीं बना सकते है।

पीएम मोदी की तारीफ की
इसके बाद बिल गेट्स पीएम मोदी की तारीख करते हुए अपने ब्लॉग में आगे लिखा कि मेरे ख्याल से ऐसा पहले किसी राष्ट्रीय नेता ने इस तरह से कोई संवेदनशील विषय पर इतने खुलेपन और सार्वजनिक रूप से बात की होगी। पीएम मोदी ने सिर्फ भाषण ही नहीं दिया बल्कि इसको लेकर काम भी किया है। भाषण देने के महज दो महीने बाद ही उन्होंने स्वच्थ भारत अभियान का भी शुभारंभ किया, जिसके चलते पूरे देश में करीब 7.5 करोड़ शौचालय बनाकर पूरे देश को 2019 तक शौच से मुक्त करना है। पीएम मोदी ने इस बात को भी सुनिश्चित किया कि अनोपचारित कचरा खुले में न फेंका जाएं।

मिलकर करेंगे लक्ष्य को पूरा
स्वच्छता के कदम को अर्थव्यवस्था के साथ जोड़कर बिल गेट्स ने लिखा कि स्वच्छता की समस्या को हल करने से हजारों जिदंगी को बचाया जा सकता है। जिसके चलते लड़कियां स्कूल जा सकेगी और इसका असर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने पर भी पड़ेगा। सफाई के इस पहल को बनाए रखने के लिए हमारा फांउडेशन खास जोर दे रहा है और हम भारत सरकार के साथ मिलकर इस लक्षयों को हासिल करने के लिए भी काम कर रहे है।

पीएम मोदी के प्रयास हुए सफल
उन्होंने पीएम मोदी के प्रयासों की सफलता का वर्णन करते हुए वह लिखते है कि 2014 में जब स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत हुई थी, उस समय सिर्फ 42 फीसदी भारतीय लोगों को ही उचित स्वच्छता उपलब्ध थी। लेकिन आज के समय 63 फीसदी लोगों को इसका फायदा मिल रहा है। वहीं, 2 अक्टूबर, 2019 तक इस लक्षय को पूरा करने के लिए सरकार के पास एक विस्तृत योजना भी तैयार है।अधिकारियों का पता है कि कौन से राज्य सही ट्रैक पर है और कौन पीछे चल रहा है। इसका श्रेय सिर्फ भारत के मजबूत रिपोर्टिंग सिस्टम को जाता है।

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top