Home > राष्ट्रीय > वित्त मंत्री अरुण जेटली की दो टूक, राज्य सरकारें अपने खर्चे पर करें किसानों का कर्ज माफ

वित्त मंत्री अरुण जेटली की दो टूक, राज्य सरकारें अपने खर्चे पर करें किसानों का कर्ज माफ

States keen on farm loan waiver must generate funds from own resources: FM Arun Jaitley

 Arun Mishra |  2017-06-12 09:57:40.0  |  New Delhi

वित्त मंत्री अरुण जेटली की दो टूक, राज्य सरकारें अपने खर्चे पर करें किसानों का कर्ज माफFile Photo

नई दिल्ली : किसानों की कर्ज माफी पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बड़ा बयान दिया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि राज्य सरकारें चाहें तो अपने खर्चे से किसानों का कर्ज माफ कर सकती हैं। अरुण जेटली ने कहा, 'महाराष्ट्र जैसे राज्य जो किसान ऋण माफी के लिए उत्सुक हैं, उन्हें अपने संसाधनों से धन जुटाना चाहिए।'

वित्त मंत्री का यह बयान ऐसे वक्त आया है जब एक दिन पहले ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सरकार ने राज्य के किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा की है। महाराष्ट्र सरकार के इस ऐलान के बाद राज्य के किसानों ने सोमवार से अपना आंदोलन वापस लेने का ऐलान कर दिया था।

हाल ही में मध्य प्रदेश में कर्ज माफी की मांग को लेकर किसानों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए महाराष्ट्र के किसानों ने भी कर्ज माफी की मांग दोबारा शुरु कर दी थी। मध्य प्रदेश की घटना से सबक लेते हुए राज्य सरकार ने इस मामले को तूल न पकड़ने देने की आशंका के चलते कर्ज माफी का ऐलान कर दिया है।

महाराष्ट्र सरकार ने छोटे और मझोले किसानों के 30,000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किए जाने का ऐलान किया है। बता दें कि मध्य प्रदेश में किसानों के प्रदर्शन के दौरान 6 किसानों की मृत्यु के बाद किसानों का विरोध उग्र और हिंसक हो गया था।

इस बीच तेलंगाना राज्य के भी किसान सरकार से उचित मुआवजा और कर्ज माफी की मांग कर रहे है।

बीते महीने तेलंगाना के किसानों ने दिल्ली में प्रदर्शन किया था। यही हाल पंजाब के किसानों का भी है वो भी सरकार से कर्ज माफी की मांग कर रहे हैं। ऐसे में ऐसी आशंका भी जताई जा रही है कि पंजाब के किसान भी प्रदर्शन पर उतर सकते हैं।

Tags:    
Share it
Top