Home > राज्य > राजस्व मंत्री ने किया चकबन्दी विभाग की समीक्षा

राजस्व मंत्री ने किया चकबन्दी विभाग की समीक्षा

 Special Coverage News |  2016-07-29 11:49:43.0  |  लखनऊ

राजस्व मंत्री ने किया चकबन्दी विभाग की समीक्षा

उत्तर प्रदेश के राजस्व, सिंचाई, लोक निर्माण, एवं सहकारिता मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कब्जा परिवर्तन के कार्यो में तेजी लाई जायें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि जहाॅ भी कब्जा परिवर्तन के काम मे बाधा आये अथवा कोई ग्रामवासी बाधा उत्पन्न करे तो तत्काल जिलाधिकारी और पुलिस प्रशासन से सहायता ले कर निस्तारित करे।

राजस्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव आज सचिवालय स्थित तिलक हाल, लखनऊ, में चकबंदी अधिकारियों के साथ विभागीय कार्याें कब्जापरिवर्तन/लम्बित मुकदमो के निस्तारण के सम्बन्ध समीक्षा कर रहे थे। श्री यादव ने चकबंदी अधिकारियो को निर्देश दिये कि लम्बित मुकदमों के निस्तारण में तेजी लाये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि एक लक्ष्य निर्धारित करके प्रत्येक माह मुकदमों को निस्तारित करे। श्री यादव ने चकबन्दी आयुक्त को निर्देश दिये कि लम्बित मुकदमो/ कब्जा परिवर्तन के कार्यो में आ रही बाधा की जाॅच को एक टीम भेजकर करवाये। उन्होंने कहा कि टीम द्वारा जाॅच कर रिपोर्ट देने पर तत्काल उसके अनुसार कार्यवाही करा के समस्याओं का निस्तारण करे।

प्रमुख सचिव राजस्व श्रीमती अनीता भटनागर जैन ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि बैठक मे आने से पहले पूरी तैयारी कर ले। प्रमुख सचिव ने चकबन्दी आयुक्त को निर्देश दिये कि कब्जा परिवर्तन/ लम्बित मुकदमो के निस्तारण की समीक्षा प्रत्येक माह करे तथा प्रगति रिपोर्ट से मा0 मंत्री जी को अवगत कराया जाये। उन्होंने चकबन्दी अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रत्येक माह निस्तारित मामलो की जानकारी से शासन को अवगत कराये। प्रमुख सचिव ने अधिकारियों को चेतावनी दी यदि सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ती मुकदमों के निस्तारण एवं कब्जा परिवर्तन में लापरवाही दिखायी गयी तो सम्बन्धित अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी।


प्रमुख सचिव राजस्व श्रीमती जैन ने कहा कि जो भी अधिकारी अच्छा/उत्कृष्ट कार्य करेगा उसे मंत्री जी द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा। बैठक मे प्रमुख सचिव राजस्व श्रीमती अनीता भटनागर जैन, चकबन्दी आयुक्त हरिओम, विशेष सचिव राजस्व तथा सभी जिलों के चकबन्दी अधिकारी उपस्थित थे।


Tags:    
Share it
Top