Home > राज्य > मध्य प्रदेश में 3.80 करोड़ रुपए लागत से बनेगा देश का पहला अनोखा मंत्रालय

मध्य प्रदेश में 3.80 करोड़ रुपए लागत से बनेगा देश का पहला अनोखा मंत्रालय

 Special Coverage News |  2016-07-15 14:19:00.0  |  भोपाल

मध्य प्रदेश में 3.80 करोड़ रुपए लागत से बनेगा देश का पहला अनोखा मंत्रालय

भोपाल : मध्य प्रदेश कैबिनेट ने आज 3.80 करोड़ रुपए लागत से आनंद विभाग बनाने को मंजूरी दे दी है। इसमें ज्ञान संसाधन केंद्र बनाया जाएगा, जो मंत्रालय की भूमिका, उसके आकार को तय करेगा। मंत्रालय में डायरेक्टर से लेकर निचले स्तर तक सभी पद होंगे।

ज्ञान संसाधन केंद्र यह अनुसंधान भी करेगा कि किस तरह लोगों के जीवन में आनंद लाया जाए। देश में पहली बार इस तरह का विभाग किसी प्रदेश में बन रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद मध्य प्रदेश के पहले आनंद मंत्री होंगे। इसके विभाग तहत लोगों के जीवन में आनंद लाने के तरीकों पर काम किया जाएगा।

हालांकि दुनिया के कई देशों जैसे- भूटान, बेनेजुएला, यूएई में आनंद मंत्रालय बन चुके हैं। वर्ष 2016 की वर्ल्ड हैप्पीनेस रपट के मुताबिक डेनमार्क सबसे प्रसन्न देश है। भूटान भी वह देश है, जो हैप्पीनेस मंत्रालय के कारण चर्चा में रहा है।

आनंद मंत्रालय को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि मध्य प्रदेश की जनता के चेहरे मुस्कुराते रहें। जिन्दगी बोझ नहीं, वरदान लगे। इसके लिए प्रदेश में आनंद मंत्रालय का गठन किया जा रहा है। इसमें रोटी, कपड़ा, मकान, आध्यात्म, योग और ध्यान के साथ ही कला, संस्कृति और गान भी होगा।

Tags:    
Share it
Top