Home > राज्य > छात्रों को पढने दे उन्हें सड़क पर उतरने के लिए विवश न करे: कन्हैया कुमार

छात्रों को पढने दे उन्हें सड़क पर उतरने के लिए विवश न करे: कन्हैया कुमार

 Special Coverage news |  2016-07-04 08:00:00.0  |  पटना

छात्रों को पढने दे उन्हें सड़क पर उतरने के लिए विवश न करे: कन्हैया कुमार

बिहार: पटना आर्ट्स कालेज में जारी छात्रों के आंदोलन को समाप्त कराए जाने और बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा तिथि में बदलाव की अपील बिहार सरकार से करते हुए जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने कहा कि छात्रों को पढने दिया जाए, उन्हें सड़क पर उतरने के लिए विवश ना किया जाए।

पटना में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कन्हैया ने कहा कि समान शिक्षा से ही समाज में समानता आ सकती है। लोगों की शिक्षा और योग्यता के आधार पर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जाना चाहिए लेकिन इसे लेकर सरकारें गंभीर नहीं हैं। यही कारण है कि विद्यार्थियों को सड़कों पर उतरना पड़ता है।

देश में शिक्षा और रोजगार को अलग-अलग कर देखे जाने का आरोप लगाते हुए कन्हैया ने बीपीएससी की परीक्षा की तिथि आगे नहीं बढ़ाए जाने पर रोषर जताया।

उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के प्रति ऐसी हठधर्मिता से प्रतीत होता है कि आयोग अभ्यर्थियों का चयन करने के लिए नहीं बल्कि उनकी छंटनी करने के लिए परीक्षा का आयोजन करती है। दो अलग-अलग तिथियों में परीक्षा होने पर प्रतिभागी यूपीएससी और बीपीएससी दोनों की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

Tags:    
Share it
Top