Home > राज्य > सुखबीर द्धारा देश की प्रथम रूरल रेपिड पुलिस रिस्पांस व्यवस्था की शुरआत

सुखबीर द्धारा देश की प्रथम रूरल रेपिड पुलिस रिस्पांस व्यवस्था की शुरआत

 Special Coverage News |  2016-07-01 11:58:21.0  |  जालन्धर

सुखबीर द्धारा देश की प्रथम रूरल रेपिड पुलिस रिस्पांस व्यवस्था की शुरआत

जालन्धर एच एम त्रिखा

पंजाब के उप मुख्य मंत्री स. सुखबीर सिह बादल द्धारा आज देश मे रूरल रेपिड पुलिस रिसपांस व्यस्थया की शुरआत की गई है जिससे ग्रामीण क्षेत्रो मे किसी भी प्रकार की कानून व्यस्थया की समस्या या जुर्म से निपटने के लिए पुलिस 20 मिन्टों के अन्दर पहुचेगी। इस व्यस्थया के अधीन लगभग 13 हजार गांवो के लोगो को किसी भी प्रकार की सहायता के लिए 100 नंबर पर डायल करना होगा एवं यह व्यस्थया 24 घंटे काम करेगी। इसके अतिरिकत एक अन्य महत्वपूर्ण घोषणा के अधीन उप मुख्य मंत्री द्धारा पुलिस के काम मे तेजी एवं पारदर्शाता के लिए पुलसिंग एवं जांच के काम को आगामी मास से अलग अलग करने बारे भी कहा गया है।

आज यहां पी ए पी मे 400 नये मोटर साईकलों एवं 220 न्यू बलौरो गाडियों को रवाना करने के अवसर पर संबोधन करते हुये कहा कि रूरल रेपिड पुलिस रिसर्पोस व्यस्थया से आम गा्रमीण लोगो को उन के घर के नजदीक ही पुलिस सेवा मिलेगी जिससे अमन कानून बनाये रखने एवं अपराधो को काबू करने मे बडी मदद मिलेगी।
रोजमर्रा के पुलिस के कामों एवं जांच के काम को अलग अलग करने की घोषणा करते हुये उप मुख्य मंत्री ने कहा कि पंजाब पुलिस द्धारा आगामी मास से यह व्यस्थया लागू कर दी जायेगी जिससे थाना स्तर पर कानूनी अधिकारियो,फोरोसिंक लेब माहिरो एवं जांच माहिरो को नियुकत किया जायेगा।


पंजाब की पाकिस्तान से लगती 553 किलोमीटर लंबी अन्र्तराष्ट्ीय सीमा की सुरक्षा जम्मू कश्मीर से लगती सीमा की तरह करने की मांग करते हुये उप मुख्य मंत्री ने कहा कि आतंकवादी एवं नशा तस्करी को रोक ने के लिए सीमाओ की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार बी एस एफ को आधुनिक संचार साधनो एवं हथियारो से लैस किया जाना चाहिए।
पाकिस्तान से पंजाब द्वारा नशा सप्लाई की कड़ी को तोडऩे के लिए पंजाब पुलिस की पीठ थपथपाते हुये उन्होने कहा कि तस्करों द्वारा देश के अन्य हिस्सों को नशा सप्लाई करने के लिए पंजाब को रास्ते के तौर पर इस्तेमाल किया जाता था, जिस को पंजाब पुलिस द्वारा लगभग बंद किया गया है।

नशों के मुददे पर सच्चाई सामने लायें

मीडिया को नशों के मुददे पर सच्चाई सामने लाने की अपील करते हुये स. बादल ने कहा कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा सियासी रोटियां सेकनें के लिए सभी पंजाबी नवयुवकों को नशेड़ी घोषित बदनाम किया गया है। उन्होने कहा कि पंजाब पुलिस द्वारा भर्ती के लिए लगभग 6 लाख नवयुवकों का डोप टैस्ट किया जाएगा जिस के लिए मीडिया कर्मी भर्ती के दौरान पहुंचे कर सच्चाई का पता लगा सकते हैं।
उन्होने कहा कि नशों सबंधी किये जा रहे कुप्रचार का उचित उत्तर इस भर्ती प्रक्रिया द्वारा मिल जाएगा। उन्होने कहा कि देश के अन्य राज्यों में पंजाब से नशे का प्रयोग कही अधिक है। पंरतु पंजाब विरोधी पार्टियों द्वारा राज्य को जानबूझ कर बदनाम किया जा रहा है। उन्होने कहा कि हालही में हरियाणा में पुलिस भर्ती के दौरान नशे के कारण जहां तीन नवयुवकों की मृत्यु हो चुकी है वहीं एक हजार के लगभग नवयुवक नशे के कारण अस्पतालों में भर्ती हेै।

पंजाब पुलिस में 8000 अन्य जवानों की भर्ती का ऐलान करते हुये स. बादल ने कहा कि आगामी केबिनेट मीटिंग में इस संबधी प्रस्ताव को मंजूरी दे दी जाएगी। इस के अतिरिक्त महिलाओं की सुरक्षा के लिए 'वूमैन आमर्ड स्पैशल एस्कोरट' टीमों को आगामी 15 दिनों के दौरान फील्ड में भेजने का ऐलान करते हुये स. बादल ने कहा कि इन टीमों की व्यवस्था विशेषकर शैक्षणिक संस्थानोंं तथा कामकाज वाले स्थानों के समीप की जाएगी।

इससे पूर्व संबोधित करते हुये डीजीपी सुरेश कुमार अरोड़ा ने बताया कि रूरल रैपिड पुसि रिसपोैंस व्यवस्था तहत राज्य को 877 बीटों में बांटा गया है और सभी जिलों में पुलिस कंट्रोल रूमों को अति आधुनिक उपकरणों जैसे कि कम्पयूटरकृत डिसपैच साफटवेयर आदि से लैस किया गया है इसके अतिरिक्त फोन काल रिसिव करने ओैर विभिंन स्थितियों से निपटने के लिए पुलिस कर्मियों को विशेष प्रशिक्षण भी दिया गया है। उन्होने बताया कि इस व्यवस्था के लिए 3500 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

डीजीपी द्वारा यह भी बताया गया कि पंजाब सरकार द्वारा पुलिस कर्मियों के वार्षिक मैडीकल सभी सरकारी अस्पतालों में निशुल्क होगें। इस अवसर पर केैबिनेट मंत्री अजीत सिंह कोहाड़, मुख्य संसदीय सचिव पवन कुमार टींनू, गुरप्रताप सिंह वडाला, केडी भंडारी, अविनाश चंदर, विधायक सरवन सिंह फिल्लौर, सुरेन्द्र सिंह भूलेवाल राठां,जिला योजना केमटी के चेयरमैन गुरचरन सिंह चन्नी,एडीजीपी दिनकर गुप्ता, उपमुख्यमंत्री के प्रधान सचिव पीएस औजला,उपमुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव मनवेश सिंह सिद्धू, आईजी लोक नाथ आंगारा , डिप्टी कमिशनर केके यादव व पुलिस आयुक्त अर्पित शुक्ला उपस्थित थे।

Tags:    
Share it
Top