Home > राज्य > कांग्रेसी मंत्री की बजह से पुलिस के डीएसपी ने लगाई फांसी

कांग्रेसी मंत्री की बजह से पुलिस के डीएसपी ने लगाई फांसी

 Special Coverage News |  2016-07-08 06:18:47.0  |  बेंगलुरु

कांग्रेसी मंत्री की बजह से पुलिस के डीएसपी ने लगाई फांसी

बेंगलुरू

कर्नाटक में पिछले एक हफ्ते के भीतर दूसरे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की संदिग्ध मौत हो गई। गुरुवार रात कोडागू जिले के डीएसपी एमके गणपति का शव पंखे से झूलता हुआ मिला। उस वक्त वे वर्दी में थे और उनकी सर्विस रिवाल्वर कमर में लगी थी। आपको बता दें कि बीते मंगलवार को बेलगावी शहर में डीएसपी कलप्पा हंदिबग ने भी कथित तौर पर सुसाइड कर लिया था। उन पर किडनैपिंग केस में 10 लाख की फिरौती लेने का आरोप था।


सुसाइड नोट में मंत्री और पुलिस अफसर के नाम लिखे हुए पाए गये है।

एमके गणपति 51 वर्षीय ने कुर्ग के पास मेडिकेरी की एक लॉज में सुसाइड किया है। उनके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है।


सूत्रों ने बताया कि गणपति ने सुसाइड नोट में सिद्धारमैया सरकार के मंत्री और कांग्रेस नेता के.जे. जॉर्ज, उनके बेटे और दो सीनियर पुलिस अफसरों के नाम लिखे हैं। गणपति ने कुछ दिन पहले लोकल मीडिया से बातचीत में कहा था कि पुलिस अफसर और मंत्री मिलकर उसे परेशान कर रहे हैं।


पॉलिकल प्रेशर में किया सुसाइड?

माना जा रहा है कि किसी पॉलिटिकल प्रेशर के चलते डीएसपी ने सुसाइड का कदम उठाया है। दो महीने पहले ही उनका ट्रांसफर मैंगलोर के आईजी पुलिस ऑफिस में हुआ था। मंत्री जॉर्ज के बेटे ने मीडिया से कहा है कि वे नहीं जानते की गणपति ने उनकी फैमिली का नाम नोट में क्यों लिखा। उनसे थोड़ी-बहुत जान-पहचान जरूर थी। पुलिस फिलहाल इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है। एसपी राजेंद्र प्रसाद ने कहा कि हम मामले की जांच कर रहे हैं।


Tags:    
Share it
Top