Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सहारनपुर > 100 डकैतियों का मास्टर माइंड चढ़ा पुलिस के हत्थे

100 डकैतियों का मास्टर माइंड चढ़ा पुलिस के हत्थे

 Arun Mishra |  2016-12-16 10:00:38.0  |  सहारनपुर

100 डकैतियों का मास्टर माइंड चढ़ा पुलिस के हत्थे

सहारनपुर पुलिस और सहारनपुर क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम ने संयुक्त रूप से मिलकर अब तक लगभग 100 डकैतियों को अंजाम दे चुके मास्टरमाइंड कमल उर्फ़ शाहिद को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से पुलिस ने भारी मात्रा में डकैती का सामान व हथियार बरामद किया है।

पुलिस ने शाहिद के 2 अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया है। इनके पास से एक गाड़ी भी बरामद की है जिसको ये डकैती की घटना को अंजाम देने में प्रयोग करते थे। इस गैंग का पश्चिमी उत्तरप्रदेश में बहुत भय व्याप्त था। ये गैंग अब तक पश्चिमी यूपी के सैकड़ों घरों में डकैती डाल चूका था। संभवतः इस गैंग के पकडे जाने से डकैती की घटनाओं पर कुछ तो अंकुश लगेगा।

आपको बता दें कि पश्चिमी यूपी में अब तक सैकड़ों घरों में डकैती की घटना को अंजाम देने वाले गैंग को सहारनपुर गागलहेड़ी थाने की पुलिस और सहारनपुर क्राइम ब्रान्च की टीम ने मुखबीर की सुचना पर गिरफ्तार किया है। पुलिस ने 3 लोगों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। जिनके नाम शाहीद, राशीद व सोनू हैं। जिनमे शाहीद गैंग का मास्टरमाइंड है जो कि अब तक पश्चिमी यूपी में 100 डकैती की घटनाओं को अलग अलग गैंग बनाकर अंजाम दे चुका है। शाहिद हर बार डकैती की घटना को अंजाम देने से पहले अपना नया नाम रखता था जिससे इसके कई नाम बन गए।

शाहिद ने सबसे पहले 2011 में सिर्फ 20 साल की उम्र में पहली बार गैंग बनाकर एक डकैती की घटना को अंजाम दिया। जिसमे इसके सभी साथी पकडे गए लेकिन शाहिद भागने में कामयाब रहा। इसके बाद तो शाहिद हर बार अपना नाम व गैंग बदल कर डकैतियां डालता रहा लेकिन कभी भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा। इसके साथी तो पकडे जाते थे लेकिन शाहिद कभी भी पकड़ा नहीं गया। शाहिद गैंग बनाकर आधी रात में घर में घुसता था फिर घर के लोगों को डरा-धमका कर बंधक बना देता था फिर घर का सारा सामान बटोरकर मौके से फरार हो जाता था।

शाहिद व उसके गैंग की कई बार पुलिस से सामना भी हुआ लेकिन ये उन पर फायरिंग कर भाग जाते थे। शाहिद के बदले हुए नाम कमल हसन उर्फ़ गद्दी उर्फ़ नेपाली उर्फ़ कबूतर उर्फ़ ठाकुर उर्फ़ सारिक उर्फ़ सिक्कू हैं। इन्ही नामो को लेकर शाहिद डकैती करता था। शाहिद का अपराधिक इतिहास काफी बड़ा है पश्चिमी यूपी के कई थानो में शाहिद के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। शाहिद ने सहारनपुर सहित मुज़फ्फरनगर, मेरठ, बिजनौर, गाजियाबाद, अमरोहा, गजरौला, बागपत तथा शामली जिलों में अपना भय व्याप्त कर रखा था। पुलिस ने इनके पास से एक कार, लाखों रूपये के सोने-चाँदी के आभूषण (320 ग्राम सोना व 4 किलो चाँदी ) 1 पिस्टल मय 9 ज़िंदा कारतूस व 2 तमन्चे मय 4 ज़िंदा कारतूस बरामद किये हैं।
रिपोर्ट : राहुल पटेल

Tags:    
Share it
Top