Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सहारनपुर > सहारनपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी, मात्र 6 घंटे में अपहरण की घटना का किया खुलासा

सहारनपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी, मात्र 6 घंटे में अपहरण की घटना का किया खुलासा

 Arun Mishra |  2017-02-25 13:06:35.0  |  सहारनपुर

सहारनपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी, मात्र 6 घंटे में अपहरण की घटना का किया खुलासालव कुमार, सहारनपुर एसएसपी और अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया गया बच्चा

सहारनपुर के थाना मण्डी क्षेत्रान्तर्गत मन्सूर कालोनी से 24 फ़रवरी 2017 को एक बच्चे का कुछ अज्ञात बदमाशों ने अपहरण कर लिया था। जिसमें बालक के परिजनों ने थाना मण्डी में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया था। जिसमे पुलिस को आज सफलता मिली और 4 लोगों को गिरफ्तार कर घटना का अनावरण किया गया।

आपको बता दें कि सहारनपुर थाना मण्डी क्षेत्र के मन्सूर कालोनी से जैकी उम्र लगभग 12 वर्ष पुत्र मुस्तकीम की कुछ अज्ञात बदमाशों के द्वारा अपहरण कर लिया गया था। जिसमे अज्ञात बदमाशों के खिलाफ परिजनों ने थाने में तहरीर दी जिसके बाद थाना मंडी पुलिस व् सहारनपुर सर्विसलांस टीम सहित सहारनपुर क्राइम ब्रांच की टीम इस अपहरण की घटना के खुलासे में लग गयी। जिसमें पुलिस को आज सर्विसलांस की मदद से अपराधियों का सुराग मिला।


पुलिस ने थाना मंडी क्षेत्र के 22 फूटा रोड के कब्रिस्तान के पास से 4 लोगों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। पकडे गए अभियुक्तों में शिवचरण निवासी कोलागढ़ ,सलीम निवासी खाता खेड़ी ,सुन्दर निवासी कोलागढ़ व् ललित पत्नी शिवचरण निवासी कोलागढ़ सभी इस अपहरण में शामिल थे। सुन्दर और ललिता की निशानदेहि पर अपहृत जैकी को सकुशल बरामद कर लिया गया।

पूछताछ में अभियुक्तों ने खुलासा किया की 20 लाख की रकम की फिरौती के लिए हमने जैकी का अपहरण किया था। शिवचरण का जैकी के घर में आना जाना था जिसकी वजह से जैकी आसानी से शिवचरण के कब्जे में आ गया था। जब शिवचरण ने जैकी को बिल्ली लाने की बात कही तब जैकी शिवचरण के साथ चल दिया। जिसे बाद में सलीम की मदद से शिवचरण ने अपने घर में ही बंधक बनाकर रख लिया और अपने चाचा के लड़के सुन्दर और अपनी पत्नी को उसकी निगरानी के लिए रख दिया।

काबिले तारीफ है एसएसपी लव कुमार की कार्यशैली -
वहीं, सहारनपुर पुलिस की आज इस अपहरण के खुलासे में भूमिका काबिले तारीफ है। जिस तरह अपहरण के मात्र 6 घंटे के भीतर ही अपहरण का खुलासा कर दिया। अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के कुछ देर बाद ही फिरौती के रकम 20 लाख की मांग कर डाली। जब पीड़ित फिरौती की रकम लेकर बदमाशों के बताये हुए पते पर पहुंचे तो वहां पर पहुंचे शिवचरण और सलीम को पुलिस टीम ने धार दबोचा। जिनकी निशानदेही पर जैकी को बरामद किया और अन्य अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया।


इन सब घटना में जहाँ पुलिस ने अपहरकर्ताओं को गिरफ्तार किया है वहीं ये देखा जा रहा है कि पकडे गए आरोपी का पिछला कोई आपराधिक इतिहास नहीं मात्र पैसों के लालच में उन्होंने इस तरह के अपराध को किया। वही पकड़ी गयी महिला का 1 साल का बच्चा जिसका कोई कसूर नहीं है वो भी अपनी माँ साथ जेल की सलाखों के पीछे अपने बचपन को गुजारने को मजबूर है।
रिपोर्ट : राहुल पटेल

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top