Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सहारनपुर > सहारनपुर में फिर भड़की दंगे की आग, दोनों पक्ष आमने-सामने

सहारनपुर में फिर भड़की दंगे की आग, दोनों पक्ष आमने-सामने

 Arun Mishra |  2017-04-21 05:58:55.0  |  New Delhi

सहारनपुर में फिर भड़की दंगे की आग, दोनों पक्ष आमने-सामने

सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्रान्तर्गत गांव सड़क दूधली में अंबेडकर जयंती की शोभायात्रा निकालते समय दो पक्षों में जमकर हुआ पथराव जिससे मौके पर अफरा-तफरी मच गई। पथराव करने वालों ने शोभा यात्रा पर हमला बोलते हुए उसमे तोड़फोड़ भी शुरू कर दी। इस हमले में कई लोग व् पुलिसकर्मी भी घायल हो गए जिनको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

आपको बता दें कि सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्रान्तर्गत गाँव दूधली में अम्बेडकर जयंती के उपलक्ष में एक शोभा यात्रा निकाली जा रही थी।अभी यह शोभायात्रा सड़क दूधली गांव के पास ही पहुंची थी कि कुछ मुस्लिम लोगों ने इसका विरोध करते हुए शोभा यात्रा को बीच में ही रोक दिया जिसके बाद दोनों पक्षों में तूतू-मैंमैं शुरू हो गयी और दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए।

शोभा यात्रा का विरोध कर रहे पक्ष ने बीच रास्ते में ही यात्रा को रोक दिया और उन्होंने पथराव शुरू कर दिया।जिसके जवाब में फिर यात्रा निकलने वाले पक्ष ने भी जवाबी पथराव किया। इस बिच पुलिस के आलाधिकारी मय फ़ोर्स मौके पर पहुंची और हालत को काबू करने की कोशिश की लेकिन हालत बेकाबू हो रहा था। उधर पुलिस बल की मौजूदगी में दूसरे पक्ष के लोग पथराव करते रहे और पुलिस तमाशबीन बानी रही। इतना ही नहीं उन लोगों ने पुलिसबल को भी नहीं बक्शा उन पर भी पतराव कर दिया। पथराव कर रहे मुस्लिम लोगों ने शोभायात्रा वाहन के भी शीशे तोड़ दिए।

सांसद राघव लखन पाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुम्बर समेत बड़ी संख्या में भाजपाई भी मौके पर पहुंच गए। भाजपाइयों ने हर हालत में शोभा यात्रा को उसी रास्ते से ले जाये जाने की मांग की। दूसरे जिलों से भी फ़ोर्स को मंगाया गया फिर भी हालात काबू में नहीं आया है। शोभायात्रा पर पथराव के बाद सड़क क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर हैं और हालातों को देखते हुए पड़ोसी जिले शामली और मुजफ्फरनगर से भी फोर्स रवाना कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक पड़ोसी जिलों से रिजर्व फोर्स मनाया जा रहा है मौके पर पर्याप्त पुलिस बल भी तैनात है।

वहीं, हिन्दू संगठनों और भाजपा के लोगों ने एसएसपी की कार्यवाही से असंतुष्ट होकर एसएसपी आवास का घिराव किया और सड़क पर जा रहे लोगों से नाम पूछकर पकड़कर पिटा जा रहा है।इस पूरी घटना में पुलिसिया रवैया बहुत ही असंतुष्ट रहा जिसमे पुलिस ने केवल एक ही पक्ष को रोके रखा और दूसरा पक्ष उन पर पथराव करता रहा। पुलिस की इसी कार्यवाही के चलते सभी संगठन एक होकर अधिकारीयों का घिराव किये बैठे हैं।

आज के इस दंगे से सहारनपुर फिर उसी पायदान पर पहुँच गया है जहाँ पर पहले एक बार दंगा भड़का था और सहारनपुर दंगे की आग में जल उठा था। हालात बेकाबू है पुलिस प्रशासन भी हालात को काबू नहीं कर पा रहा है अब देखना है कि ये आग फैलती है या रुक जाएगी।
रिपोर्ट : राहुल पटेल

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top