Home > धर्म-कर्म > कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ चमत्कार

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ चमत्कार

 शिव कुमार मिश्र |  2017-11-05 05:54:36.0  |  दिल्ली

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ चमत्कार

भैया दूज के दिन पवित्र शिव धाम श्री केदारनाथ जी के कपाट शीतकाल के लिए बंद हो गए। लेकिन कपाट बंद होने से पहले मंदिर के गर्भ गृह में ऐसा चमत्कार हुआ कि सब अचंभित हो गए।

शनिवार को मंदिर समिति और प्रशासन को गर्भगृह के कपाट बंद करने में खासी दिक्कतें हुईं। दरवाजे के कुंडे नहीं लग पाए। लाख कोशिशों के बाद भी दरवाजे के कुंडे नहीं लग पाए।
मंदिर के गर्भगृह की दीवारों पर चांदी लगाई गई है। इसलिए कुंडी लगाने में खासी दिक्कत हुई।
कई प्रयास के बाद भी सफलता नहीं मिली तो बीकेटीसी के सीईओ बीडी सिंह और वयोवृद्ध तीर्थ पुरोहित श्रीनिवास पोस्ती ने भगवान केदार के क्षेत्रपाल *भकुंड भैरव* का आह्वान किया।
कुछ ही पल में भकुंड भैरव अपने पण्डा अरविंद शुक्ला पर अवतरित हुए। देवता द्वारा कुंडी को स्पर्श करते ही वह दूसरे कुंडे पर जुड़ गया, जिसके बाद पदाधिकारियों व अधिकारियों की मौजूदगी में ताला लगाया गया। बीकेटीसी सीईओ ने बताया कि शीतकाल में बाबा केदारनाथ धाम की सुरक्षा भगवान भैरवनाथ के भरोसे ही होती है। और उन्हीं के आवाहन के बाद ही कपाट बंद हो पाये, यह सब मीडिया वालों के साथ सभी उपस्थिति भक्त गण देखकर दंग रह गये।

Tags:    
शिव कुमार मिश्र

शिव कुमार मिश्र

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top