Home > शेयर बाजार > शेयर बाजार धड़ाम : सेंसेक्स 500 अंक से अधिक लुढ़का, निफ्टी भी 7700 के नीचे

शेयर बाजार धड़ाम : सेंसेक्स 500 अंक से अधिक लुढ़का, निफ्टी भी 7700 के नीचे

 Special News Coverage |  2016-01-07 10:46:34.0

Sensex

मुंबई : आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रही अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिए चीन ने आज अपनी मुद्रा का आधा फीसदी अवमूल्यन कर दिया है। ऐसा करने के कारण एक सप्ताह में दूसरी बार चीन के शंघाई कंपोजिट शेयर सूचकांक में सात प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट आई है। इस मंदी का असर केवल चीन पर ही नहीं पड़ा है बल्कि भारतीय शेयर बाजार पर भी देखने को मिल रहा है।

भारतीय शेयर बाजार कारोबारी सत्र के चौथे दिन 182 अंकों की गिरावट के साथ 25224 अंकों पर खुला। इसके बाद भी इसमें लगातार गिरावट का दौर जारी रहा और दोपहर तक यह 529 अंक गिरकर 24955.05 पर पहुंच गया। वहीं निफ्टी में भी आज 111 अंकों की गिरावट दर्ज की गई और यह 7636.71 पर खुला। इसमें भी करीब 1.30 फीसद की गिरावट दर्ज की गई।


भारतीय बाजारों का एसजीएक्स निफ्टी में भी 76.50 अंक यानी 1 फीसद की गिरावट देखी जा रही है। दूसरी ओर जापान के निक्‍केई में भी 1.88 फीसद की गिरावट देखी गई और हैंगसेंग भी 3 फीसद से ज्यादा नीचे तक गिर गया। ताइवान में 2 फीसद की गिरावट दर्ज की जा रही है और ये 7,831 पर कारोबार कर रहा है। कोरिया का कोस्पी 1.25 फीसद की गिरावट के बाद 1,901 पर बना हुआ है। एप्‍पल इंक के शेयर भी पांच माह के सबसे निचले स्‍तर 100 डॉलर पर आ गया।

चीन ने पिछले साल अगस्त के बाद से अपनी मुद्रा का सबसे तेजी से अवमूल्यन किया। आज केंद्रीय बैंक पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने यूआन की संदर्भ दर 6.5646 प्रति डॉलर तय की। आपको बता दें कि यह दर बुधवार की तुलना में 0.5 प्रतिशत कम है। साथ ही यह मार्च 2011 के बाद का सबसे निचला स्तर है।

गौरतलब है कि अगस्त में चीन ने दो दिन में यूआन का चार प्रतिशत से ज्यादा अवमूल्यन किया था। अन्य एशियाई देशों द्वारा मुद्रा अवमूल्य की होड़ शुरू होने की आशंका में निवेशकों ने वहां भी शेयर बाजारों में बिकवाली करना शुरू कर दिया। इसी कारण भारतीय शेयर बाजार भी औंधे मुंह लुढककर नीचे आ गया।

Tags:    
Share it
Top