Home > राज्य > तेलंगाना > हैदराबाद > कांग्रेस को झटका, इस बड़े नेता ने किया बाय बाय

कांग्रेस को झटका, इस बड़े नेता ने किया बाय बाय

 शिव कुमार मिश्र |  2018-06-24 03:40:46.0  |  हैदराबाद

कांग्रेस को हैदराबाद में झटकाकांग्रेस को हैदराबाद में झटका

कांगेस पार्टी के अभी बुरे दिन जाते प्रतीत नहीं हो रहे है. जहाँ उसे अभी पांच बार विधायक रहे नेता मार्टिन डांगो ने पार्टी से रिश्ता खत्म कर लिया था तो शनिवार को एक अन्य राज्य से वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने पार्टी से नाता तोड़कर सत्तारूढ़ पार्टी का दामन थाम लिया है. कांग्रेस के लिए यह बुरी खबर तेलंगाना से आई है. तेलंगाना के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को झटका देते हुए वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री दानम नागेंद्र ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. हालांकि, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष एन उत्तम कुमार रेड्डी नागेंद्र के घर पर उन्हें अपना फैसला पलटने के लिए मनाने गए थे लेकिन वह मिले ही नहीं.




पूर्व मंत्री दानम नागेंद्र ने शनिवार को कहा कि वह सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) में शामिल होंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस में सिर्फ एक समुदाय को ही प्राथमिकता मिली और पिछड़े वर्गों की अनदेखी की गई. नागेंद्र 2009-2014 के बीच कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे थे. उन्होंने कहा कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने समाज के विभिन्न तबकों के लिए काम किया है जैसे अविभाजित आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर वाईएस राजशेखर रेड्डी ने किया था.


इससे पहले, मेघालय में कांग्रेस को दोहरा झटका लगा था. एक तो कांग्रेस विधायक मार्टिन डांगो ने इस्तीफा दे दिया, दूसरा डांगो के इस्तीफे के बाद कांग्रेस ने अब राज्य विधानसभा में सबसे बड़ी बनी हुई है. डांगो के भी सत्तारूढ़ पार्टी एनपीपी में शामिल होने की बात कही जा रही है. एनपीपी इस पूर्वात्तर राज्य में बीजेपी और कुछ अन्य क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर गठबंधन सरकार चला रही है. मेघालय में फरवरी में विधानसभा चुनाव हुए थे. कांग्रेस सबसे बड़ी इकलौती पार्टी होने के बावजूद सरकार बनाने में कामयाब नहीं हो पाई थी.


Tags:    
Share it
Top