Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मुरादाबाद > मुरादाबाद : जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल

मुरादाबाद : जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल

इस वीडियो के वायरल होने के बाद भी मुरादाबाद पुलिस ने अभी तक किसी भी पक्ष के के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की हैं।

 Arun Mishra |  2018-06-07 14:19:44.0  |  दिल्ली

मुरादाबाद : जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल

मुरादाबाद : उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद के पिछले दो दिनों से तेजी से वायरल हो रहे एक वीडियो ने मुरादाबाद पुलिस की कार्यप्रणाली पर ही प्रश्नचिन्ह ही लग गया हैं क्योंकि वीडियो में दो दर्जन से ज्यादा लोग एक दूसरे को भयंकर तरीके से लाठी डंडों से मरते दिखाई दे रहे हैं और महिलाएं डर के मारे जोर-जोर से चिल्ला रही हैं इस वीडियो के वायरल होने के बाद भी मुरादाबाद पुलिस ने अभी तक किसी भी पक्ष के के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की हैं।

दरअसल मामला मुगलपुरा थाना क्षेत्र में पालतू कबूतरों के बैठने को लेकर दो पक्षो में हुए विवाद के बाद जमकर मारपीट हो गयी। लाठी-डंडों से एक दूसरे पर हमलावर हुए दोनों पक्षों के झगड़े के चलते पूरा मोहल्ला अखाड़े में तब्दील हो गया। जमकर हुई मारपीट में कई लोगों को चोटें भी आई है। मौके पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को लेकर थाने पहुंची लेकिन दोनों पक्षों ने कार्रवाई करने से इनकार कर दिया।
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो को देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे। लाठी- डंडे लेकर एक दूसरे पर जानलेवा हमला कर रहे इन लोगों के बीच विवाद की वजह कबूतर है। घटना मुगलपुरा थाना क्षेत्र के बरवलान मोहल्ले की है। दरअसल एक ही कुनबे से जुड़े दोनों पक्षों में एक पक्ष जहीर अहमद नाम के शख्स का है। जहीर अहमद के बेटे के पालतू कबूतर उन्ही के रिश्तेदार कामरान के घर की छत पर बैठ गए थे। कामरान के घर की छत ऊंची है और उसके निर्माण को लेकर पहले भी दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था। छत पर कबूतर बैठे देख कामरान पक्ष ने पालतू कबूतरों को पकड़ लिया । कबूतर पकड़े जाने की सूचना मिलते ही जहीर अहमद पक्ष ने कामरान के घर पर धावा बोल दिया और देखते ही देखते महाभारत शुरू हो गयी।
हंगामे और झगड़े की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने हमलावरों को थाने भेज दिया और मामले की जांच शुरू कर दी। पुलिस ने कार्रवाई शुरू की तो दोनों पक्षों के बुजुर्ग थाने पहुंच गए और मामले को आपस मे बैठकर सुलझाने का आश्वासन देकर कार्रवाई से इंकार करने लगे। दोनों पक्षों द्वारा आपस में मामला सुलझाने का आश्वासन देने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया।
इस तरह हथियारों से एक दूसरे के ऊपर जानलेवा हमले के बाद भी थाना पुलिस द्वारा कोई कारवाही न करना उत्तर प्रदेश की योगी पुलिस के काम करने के तरीके पर सवाल जरूर खड़े होते हैं
इस वायरल वीडियो पर जब मुरादाबाद पुलिस के आला अधिकारियों से वर्जन लेने की कोशिश की गई तो उन्होंने कैमरे पर कोई भी जवाब देने से मना कर दिया।

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top