Home > ज्योतिष > भूलकर भी ना लगाएं इन दिशाओं में दीवार पर घड़ी, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

भूलकर भी ना लगाएं इन दिशाओं में दीवार पर घड़ी, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

 Sujeet Kumar Gupta |  22 Dec 2019 10:02 AM GMT  |  नई दिल्ली

भूलकर भी ना लगाएं इन दिशाओं में दीवार पर घड़ी, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

नई दिल्ली। आजकल की नई जेनरेशन वास्तुशास्त्र को उतना ध्यान नहीं देते हैं, जिसके वजब से उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. आज मैं आपलोगों को वास्तुशास्त्र से जुड़ी एक विशेष चीज को बताउंगा जिसको अपना कर आप अपनी पैसों की तंगी को दूर कर सकते हैं. ऐसे बहुत कम लोग होंगे जिनके घर में दीवार घड़ी नहीं होगी. वास्तुशास्त्र के मुताबिक दीवार घड़ी को लगाने के लिए कई दिशाएं निर्धारित की गई है. वहीं घर के कुछ खास जगहों पर दीवार घड़ी लगाने की मनाही की गई है.

अपने घर में भूलकर भी न लगाएं दीवार घड़ी, नहीं तो होगी आपको पैसों की तंगी-

वास्तुशास्त्र के मुताबिक घड़ी अगर आपके घर की दक्षिण दिशा में लगी है तो इसको तत्काल हटा दें क्योंकि इससे आपके और आपके परिवार वालों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ सकता है. ज्योतिषाचार्य के मुताबिक दक्षिण दिशा को ठहराव की दिशा बताते हैं. हो सकता है कि इसके वजह से आपके परिवार के सदस्यों के उपर बुरा असर होगा.

ज्योतिषाचार्य बताते हैं कि अगर आपके घर में दरवाजे के ऊपर घड़ी लगी है तो उसे आज ही उतार दें क्योंकि ये वास्तुशास्त्र के लिए सही नहीं है. इसके वजह से आपको पैसों की कमी का सामना करना पड़ सकता है अगर आप चाहते हैं कि आपके जीवन में पैसों की कमी ना हो तो वास्तुशास्त्र को ध्यान में रखकर अपने घर की दीवार की पूर्व दिशा में लगाए

वास्तुशास्त्र के मुताबिक इस तरह की घड़िया शुभ होती हैं- ज्योतिषाचार्य के मुताबिक वास्तु में ये माना गया है कि आगर आपके घर में पेण्डुलम की घड़ी है तो ये आपके परिवार वालों के लिए बहुत शुभ है वास्तुशास्त्र के मुताबिक घर में बंद घड़िया नहीं होनी चाहिए- अगर आपके घर की दीवार पर बंद घड़ी टंगी है तो इसे तुरंत हटा दें क्योंकि इससे आपकी तरक्की रुक सकती है।

वास्तु के अनुसार घड़ी हमेशा गोलाकार और चैकोर आकार की घड़ी लगाने चाहिए। इससे प्रेम और शांति आती है।वास्तु शास्त्र के अनुसार गोल, चौकोर, अंडाकार या आठ या छः भुजाओं वाली घड़ी सकारात्मक प्रभाव को बढ़ाती है। तो घड़ी खरीदते समय आप आगे से आकार का जरूर ख्याल रखें। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि घर में मौजूद सभी घडिय़ां सही ढंग से चलती रहें। कोई भी घड़ी बंद नहीं होनी चाहिए।

यह भी याद रखें कि कोई भी घड़ी अपने समय से पीछे न चले। हो सके तो अपनी घड़ी को सही समय से पांच-दस मिनट आगे ही रखें क्योंकि वक्त के साथ चलने में ही जीवन की गति, उन्नति व विकास का रहस्य छिपा है। खराब घड़ी को शीघ्र ही ठीक करवाएं एवं बैटरी खराब होने पर उसे यथाशीघ्र बदलवा लें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top