Home > क्या कहते है आज आपके सितारे (राशिफल)

क्या कहते है आज आपके सितारे (राशिफल)

आज बुधवार है। आज के राशिफल से जानिए कि किस तरह रहेगा आपका आज का दिन? आपका आज का राशिफल क्या कहता है जानने के लिए पढ़ें राशिफल:

 शिव कुमार मिश्र |  2018-06-06 02:19:07.0  |  दिल्ली

क्या कहते है आज आपके सितारे (राशिफल)

आज बुधवार है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हमारे जीवन पर ग्रहों का प्रभाव ना सिर्फ जन्म के समय बल्कि पूरे जीवनकाल में होता है। ग्रहों की स्थिति हरेक दिन हमारे भविष्य को प्रभावित करती हैं। आज के राशिफल से जानिए कि किस तरह रहेगा आपका आज का दिन? आपका आज का राशिफल क्या कहता है जानने के लिए पढ़ें राशिफलः

मेष - मेष राशि का स्वामी ग्रह मंगल माना जाता है। भगवान श्री गणेश को मेष राशि का आराध्य देव माना जाता है। आज आपका राशिफल कहता है कि आशा-निराशा के मिश्रित भाव मन में रहेंगे। माता को स्‍वास्‍थ्‍य विकार हो सकते हैं। रहन-सहन में असहज रहेंगे। खर्चों में वृद्धि होगी।
वृष राशि- वृषभ का राशि का स्वामी ग्रह शुक्र है। इस राशिवालों के लिए शुभ दिन शुक्रवार और बुधवार होते हैं। कुलस्वामिनी को वृषभ राशि का आराध्य माना जाता है। स्‍वभाव में चिड़चिड़ापन हो सकता है। परिवार का सहयोग मिलेगा। नौकरी में कार्यक्षेत्र का विस्तार हो सकता है।
मिथुन राशि- मिथुन राशि का स्वामी ग्रह बुध होता है। इस राशि के जातक बेहद समझदार होते हैं। मिथुन राशि के आराध्य देव कुबेर होते हैं। मन में निराशा एवं असंतोष के भाव रहेंगे। क्रोध की अधिकता रहेगी। अनियोजित खर्चों में वृद्धि होगी। मित्रों का सहयोग मिलेगा।
कर्क राशि- कर्क राशि का स्वामी ग्रह चंद्रमा है। भगवान शंकर को कर्क राशि का आराध्य देव माना जाता है। मानसिक उलझनें रहेंगी। पारिवारिक समस्‍याएं परेशान कर सकती हैं। कार्यक्षेत्र में परिश्रम की अधिकता रहेगी। स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति सचेत रहें।
सिंह राशि- सिंह राशि का स्वामी ग्रह सूर्य है। इस राशि के लोग किसी के सामने झुकना नहीं पसंद नहीं करते हैं। सिंह राशि के आराध्य देव भगवान सूर्य होते हैं। धैर्यशीलता में कमी रहेगी। बातचीत में संयत रहें। वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा। शैक्षिक कार्यों में व्‍यवधान आएंगे।
कन्या राशि- कन्या राशि के जातक बेहद धार्मिक प्रवृत्ति के होते हैं। मान्यता है कि कन्या राशि के आराध्य देव कुबेर जी होते हैं। स्‍वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। नौकरी में अफसरों से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। इच्‍छा विरुद्ध कोई अतिरिक्‍त कार्य मिल सकता है।
और राशि अगले पेज पर देखें।

आगे पढ़े

Tags:    
Share it
Top