Top
Home > Archived > कोल ब्लॉक घोटाले में, झारखंड के दो निदेशक को दोषी ठहराया

कोल ब्लॉक घोटाले में, झारखंड के दो निदेशक को दोषी ठहराया

 Special News Coverage |  28 March 2016 7:41 AM GMT

कोल ब्लॉक घोटाले में, झारखंड के दो निदेशक को दोषी ठहराया
झारखंड: सीबीआई की विशेष अदालत ने कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में फैसला सुनाते हुए झारखंड इस्ताप प्राइवेट लिमिटेड के दो निदेशकों आरएस रुंगटा और आर सी रुंगटा को दोषी ठहराया है। इस फैसले के बाद पुलिस ने दोनों को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में सीबीआई के विशेष न्यायाधीश भरत पराशर ने कंपनी और इसके दो निदेशकों दोषी पाया जिसके बाद यह फैसला सुनाया गया। इस मामले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से खिलाफ समन जारी करने की बात कही गई थी।


दोनों निदेशको को इंडियन पैनल कोर्ट की धारा 120 और 420 के तहत दोषी पाया गया है। धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश रचने में इन्हें पाया गया है। सीबीआई ने आरोप लगाया था कि झारखंड इस्पात प्रा. लि. को तीन अन्य फर्मों के साथ कोल ब्लॉक आवंटित किए गए थे। इस मामले में जिन आरोपियों पर मामला दर्ज हुआ था आरोप लगाते हुए कहा था की उन्हें इस मामले में सीबीआई फसाने की कोशिश कर रही है।

इस मामलें में कोर्ट ने दोनों निदेशकों को कोल ब्लॉक लेने के लिए गलत और फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने का दोषी ठहराया है। इन सभी पर धोखाधड़ी के तहत मामला चलाया गया है। फिलहाल अभी दोनों निदेशक पुलिस के हिरासत में हैं। एसार पावर, हिंडाल्को, टाटा स्टील, टाटा पावर, जिंदल स्टील एंड पावर सहित 25 कंपनियों को विभिन्न राज्यों में कोयले की खानें दी गई थीं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it