Top
Begin typing your search...

'सहारा' चीफ सुब्रत राय ने तिहाड़ में खास सुविधाओं के लिए चुकाए 1.23 करोड़ रु.

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
subrat roy sahara


नई दिल्ली : दिल्‍ली के तिहाड़ जेल में बंद सहारा ग्रुप के प्रमुख सुब्रत रॉय के बारे में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। खुलासे में बात सामने आई है कि सुब्रत राय ने जेल में स्पेशल फैसिलिटी के लिए1.23 करोड़ रुपए जेल अथॉरिटी दिए। ये पैसे वहां के स्पेशल सेल के लिए भेजे गए। उन्हें एक एसी रूम में वाई-फाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, लैपटॉप, डेस्कटॉप और स्टेनोग्राफर की फैसिलिटी दी गई थी।

रकम निवेशकों को वापस करने के लिए रॉय को अपनी प्रापर्टी बेचनी थी। यह कहकर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई कि उन्हें डील करने के लिए अलग से जगह मुहैया कराई जाए। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने यह अर्जी स्वीकार कर ली थी। यही नहीं कोर्ट ने उन्हें अलग से कॉन्फ्रेंस रूम भी दिया था।

मिली जानकारी के अनुसार राॅय को तिहाड़ जेल में एसी रूम, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के अलावा अपनी कंपनी के अफसरों और अपने बेटों से मुलाकात करने की इजाजत मिली। उन्हें दो लैपटॉप, दो डेस्कटॉप, लैंडलाइन फोन और एक मोबाइल फोन भी इस्तेमाल करने दिया गया। उन्हें स्टेनोग्राफर और कुछ असिस्टेंट भी रखने दिए गए जो सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक रॉय की मदद करते थे।

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, ‘सहारा ग्रुप ने कॉन्फ्रेंस रूम का इस्तेमाल करने के लिए अब तक तिहाड़ जेल अथॉरिटी को 1,23,70,000 रुपए दिए। इसमें सिक्युरिटी, इलेक्ट्रिसिटी, रखरखाव, रेंट और फूड-वाटर फैसिलिटी के पैसे शामिल हैं। ग्रुप को अभी और 7.5 लाख रुपए देने हैं।''

गौरतलब हो कि निवेशकों को 20,000 करोड़ रुपए नहीं लौटाने के कारण रॉय को 4 मार्च 2014 को तिहाड़ जेल भेजा गया था। बता दें कि इस केस में उनके साथ सहारा के डायरेक्टर्स अशोक रॉय चौधरी और रवि शंकर दूबे भी जेल गए थे।
Special News Coverage
Next Story
Share it