Home > केंद्र सरकार ने 'स्टार्ट अप्स' के लिए शुरू की 'ट्विटर सेवा', जानिए

केंद्र सरकार ने 'स्टार्ट अप्स' के लिए शुरू की 'ट्विटर सेवा', जानिए

 Special News Coverage |  2016-04-21 14:53:05.0

केंद्र सरकार ने 'स्टार्ट अप्स' के लिए शुरू की 'ट्विटर सेवा', जानिए

नई दिल्ली: केंद्र सरकार उभरते उद्यमियों को सहायता देने के लिए 21 अप्रैल से 'ट्विटर सेवा' शुरू की है, जहां पर स्टार्टअप्स से जुड़े सवालों का जवाब निश्चित समय सीमा के भीतर दिया जाएगा। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमन ने बताया कि 21 अप्रैल से यह सेवा शुरू की है। सेवा के जरिए कोई भी स्टार्टअप सरकार के समक्ष अपनी समस्याओं को रख सकेगा। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप अपनी समस्या के बारे में बताएं। हमारे पास एक दल है जो उस समस्या को किसी विशेष मंत्रालय तक भेजेगा और 24 घंटे के भीतर आपको जवाब देगा। उन्होंने यह जानकारी करीब 70 स्टार्टअप्स के साथ एक बातचीत के दौरान दी।


'ट्विटर सेवा' क्या है
माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर को मंच बनाकर भारत सरकार एक नई सेवा शुरू करने जा रही है, जिसे 'ट्विटर सेवा' नाम दिया गया है। एक तरह से यह सरकार की हॉटलाइन सेवा है, जिसके जरिए कोई भी सरकार से सीधा संपर्क साध सकेगा।

'ट्विटर सेवा' का मकसद

इसका मकसद युवा उद्यमियों को प्रोत्हासित करना और उनकी समस्याओं का तुरंत समाधान करना है।

कौन दे रहा है
यह मुख्य रूप से भारत सरकार के वाणिज्य मंत्रालय की पहल है, जिसके साथ वे तमाम मंत्रालय जुड़े हैं, जिनका संबंध किसी भी उद्योग को स्थापित करने से हो सकता है।

यह किसके लिए है
यह विशुद्ध रूप से युवा उद्यमियों के लिए है। ऐसे युवाओं के लिए जो यूनिक आइडियाज पर आधारित प्रोजेक्ट शुरू करना चाहते हैं या चला रहे हैं।

कौन-सी सेवा मिलती है
यहां जानकारी और मार्गदर्शन मिलेगा, साथ ही समस्याओं का निराकरण भी होगा। मान लीजिए आपको कोई उद्यम शुरू करना है तो आप अपनी प्लानिंग 'ट्विटर सेवा' के माध्यम से सरकार को बताते हैं। आप पता कर सकते हैं कि उस प्रोजेक्ट के लिए क्या-क्या करना होगा? कौन-सी सरकारी योजना के तहत मदद मिलेगी? कितना ऋण मिलेगा? किन-किन मंत्रालयों से अनुमति जरूरी होगी? सभी मंत्रालय इससे जुड़े होंगे तो पूरी कागजी कार्रवाई भी एक ही जगह हो सकेगी।

Tags:    
Share it
Top