Home > Archived > रॉबर्ट वाड्रा प्रियंका की जरूरत नहीं थी

रॉबर्ट वाड्रा प्रियंका की जरूरत नहीं थी

 Special News Coverage |  14 April 2016 8:56 AM GMT

रॉबर्ट वाड्रा प्रियंका की जरूरत नहीं थी

नई दिल्ली: रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि उन्हें अपने जीवन को सुधारने के लिए या आगे बढ़ने के लिए प्रियंका की जरूरत नहीं है। उनके माता-पिता ने उन्हें पहले से ही बहुत धन-संपत्ति दी हुई है, इसलिए उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रियंका की मदद की जरूरत नहीं है। डीएलएफ जमीन विवाद में फंसे वाड्रा ने कहा कि वो लोगों की बातों से परेशान होकर देश नहीं छोड़ने वाले हैं। उन्होंने कहा कि रियल एस्टेट समेत हरबिजनेस में लोग निराश हैं। जल्द ही सरकार के प्रति लोगों का गुस्सा फूट सकता है।


वाड्रा ने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार को जल्द ही जनता के बड़े विरोध का सामना करना पड़ेगा। देश की जनता काफी समझदार है और उसे सही-गलत की बेहतर समझ है। उन्हें कितना भी परेशान किया जाए लेकिन वे भारत छोड़कर नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मौजूदा सरकार उनके बारे में क्या कहती है। वाड्रा ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सबका अपना सोचने का नजरिया है, हम किसी पर अपने विचार नहीं थोप सकते। छात्रों के विरोध मामले को लेकर बोलते हुए वाड्रा ने कहा कि हम एक विविधता से भरे देश में रहते हैं और यहां यूथ के पास बहुत कुछ बोलने को है। यह कोई नहीं कहता कि राष्‍ट्र के खिलाफ जाओ, लेकिन लोगों का सोचने का अपना नजरिया है और हम युवा वर्ग को नीचा नहीं दिखा सकते।

रॉबर्ट वाड्रा ने दिल्ली के गोल्फ क्लब में दिए बयान में कहा कि वे एक संपन्न परिवार से रिश्ता रखते हैं। उन्हें फर्क नहीं पड़ता लोग उनके बारे में क्या कहते हैं या क्या लिखते हैं। रॉबर्ट ने कहा कि वह अपना सच बखूबी जानते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे राजनीति में हैं या फिर नहीं। जो विषय उन्हें गंभीर लगते हैं, सोशल मीडिया पर उसके बारे में वे लिखते हैं।

Tags:    
Share it
Top