Top
Begin typing your search...

IRCTC का शेयर खरीदने वाले हुए मालामाल, एक दिन में मिला 100 फीसदी से ज्यादा मुनाफा

320 रुपये के इशू प्राइस वाला शेयर 100% से अधिक के प्रीमियम के साथ 644 रुपये पर सूचीबद्ध हुआ है।

IRCTC का शेयर खरीदने वाले हुए मालामाल, एक दिन में मिला 100 फीसदी से ज्यादा मुनाफा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : शेयर बाजार में इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (IRCTC) के शेयर की बंपर लिस्टिंग हुई है। यह शेयर 320 रुपये के इशू प्राइस के मुकाबले बीएसई पर 101.25 % प्रीमियम के साथ 644 रुपये पर सूचीबद्ध हुआ। स्टॉक मार्केट में किसी सरकारी कंपनी की यह सबसे सफल लिस्टिंग है। बाजार में सूचीबद्ध होने के बाद कंपनी का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 10,736 करोड़ रुपये हो गया है।

पिछले दो साल में शेयर बाजार में यह सबसे शानदार लिस्टिंग है, जिसमें कोई शेयर इशू प्राइस के दोगुने पर लिस्ट हुआ है। सुबह 10.30 बजे कंपनी का शेयर 40.00 अंकों (6.21%) के उछाल के साथ 684 रुपये पर कारोबार कर रहा था।

12% हिस्सेदारी बेचेगी सरकार

यह पब्लिक इशू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए केंद्र सरकार के विनिवेश की योजना का हिस्सा है। आईआरसीटीसी में 100% हिस्सेदारी रखने वाली सरकार इसकी 12% हिस्सेदारी बेचेगी। आईपीओ के बाद कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर 87.7% हो जाएगी। आईआरसीटीसी इंटरनेट टिकटिंग, कैटरिंग, पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर, ट्रैवेल तथा टूरिज्म का काम करती है।

मिली थीं 112 गुना ज्यादा बोलियां

आईआरसीटीसी का आईपीओ 30 सितंबर से चार अक्टूबर के बीच खुला था। इसे निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया था। इसे 112 गुना तक ज्यादा बोलियां मिली थीं। आईआरसीटीसी के बिक्री के लिए रखे गए 2 करोड़ शेयर के एवज में 25 करोड़ करोड़ शेयर के लिये बोलियां प्राप्त हुई थीं।

645 करोड़ जुटाना मकसद

कंपनी 645 करोड़ रुपये जुटाने के लिए आईपीओ लाई है। संस्थागत निवेशकों की श्रेणी में 108.79 गुना, गैर-संस्थागत निवेशकों के मामले में 354.52 गुना और खुदरा निवेशकों के मामले में 14.65 गुना सब्सक्राइब मिला।

320 रुपये था इशू प्राइस

कंपनी के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम के लिए कीमत दायरा 315 से 320 रुपये तय किया गया था। यस सिक्युरिटीज (इंडिया), एसबीआई कैपिटल मार्केट्स और आईडीबीआई कैपिटल मार्केट्स ऐंड सिक्यॉरिटीज इस आईपीओ का प्रबंधन देख रही थी।

Special Coverage News
Next Story
Share it