Top
Begin typing your search...

इस बैंक के कस्‍टमर्स को RBI का झटका, 6 माह तक कैश निकालना हुआ मुश्किल

बीते कुछ सालों में बैंकिंग घोटाले बढ़ने की वजह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की बैंकों पर सख्‍ती बढ़ गई है.

इस बैंक के कस्‍टमर्स को RBI का झटका, 6 माह तक कैश निकालना हुआ मुश्किल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बीते कुछ सालों में बैंकिंग घोटाले बढ़ने की वजह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की बैंकों पर सख्‍ती बढ़ गई है. इसी के तहत केंद्रीय बैंक ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक पर बड़ी कार्रवाई की है. इस कार्रवाई के बाद बैंक के ग्राहकों के लिए अगले 6 महीने तक पैसा निकालना आसान नहीं रह जाएगा. आइए जानते हैं आरबीआई की कार्रवाई के बारे में..

दरअसल, पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक को आरबीआई के नियमों के उल्‍लंघन का दोषी पाया गया है. इस वजह से आरबीआई ने बैंक पर किसी भी प्रकार के व्यापारिक लेन-देन पर रोक लगा दी है. इसके साथ ही बैंक में कोई नया फिक्‍सड डिपॉजिट अकाउंट नहीं खुल सकेगा.

वहीं बैंक के नए लोन जारी करने पर भी पाबंदी लगा दी गई है. इसी तरह बैंक के ग्राहक अगले 6 महीने तक सेविंग, करंट या अन्य किसी खाते में से 1000 रुपये से अधिक पैसा नहीं निकाल सकेंगे. आरबीआई ने बैंक के किसी भी प्रकार का निवेश करने, फ्रेश डिपॉजिट स्वीकार करने आदि पर भी रोक लगा दी है.

हालांकि आरबीआई इन दिशा-निर्देशों में स्थिति के हिसाब से संशोधन कर सकता है. आरबीआई ने इसके साथ ही यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि पीएमसी बैंक का बैंकिंग लाइसेंस कैंसल नहीं किया गया है.

आरबीआई ने कहा कि बैंक अगले नोटिस या दिशा-निर्देश तक पाबंदियों के साथ कारोबार कर सकता है.बहरहाल, आरबीआई के निर्देश के बाद बैंक के अलग-अलग ब्रांच से ग्राहकों के हंगामे की खबरें भी आने लगी हैं.

इस पूरे मामले पर पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के एमडी जॉय थॉमस ने जिम्‍मेदारी ली है. थॉमस ने कहा, '' हमें आरबीआई के नियमों के उल्‍लंघन का खेद है. इस वजह से 6 महीने तक हमारे ग्राहकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. बतौर एमडी मैं इसकी जिम्‍मेदारी लेता हूं. इसके साथ ही सभी जमाकर्ताओं को यह सुनिश्चित करता हूं कि 6 महीने से पहले हम अपनी कमियों को सुधार लेंगे. ''

जॉय थॉमस ने बताया कि अनियमितताओं को सुधार कर प्रतिबंधों को हटाने के लिए सभी प्रयास किए जाएंगे. मुझे पता है कि यह आप सभी के लिए एक मुश्किल समय है. मुझे यह भी पता है कि कोई भी माफी इस दर्द को खत्‍म नहीं कर सकता है. आप सभी से अपील है कि कृपया हमारे साथ रहें और सहयोग करें. हम विश्वास दिलाते हैं कि जल्‍द इस स्थिति से उबरेंगे और मजबूत होंगे.

बता दें कि साल 1984 में मुंबई के एक छोटे से कमरे से शुरू होने वाला पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक देश के 6 राज्‍यों में सक्रिय है. वर्तमान में इस बैंक के 137 ब्रांच हैं.

Special Coverage News
Next Story
Share it