Top
Begin typing your search...

एस वी रंगनाथ बने सीसीडी बोर्ड (CCD Board) के अंतरिम चेयरमैन

नितिन बागमाने को कंपनी का अंतिरम चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर नियुक्त किया गया है. सीसीडी बोर्ड (CCD Board) की अगली बैठक 8 अगस्त को होगी.

एस वी रंगनाथ बने सीसीडी बोर्ड (CCD Board) के अंतरिम चेयरमैन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Cafe Coffee Day के मालिक वीजी सिद्धार्थ की मौत के बाद सीसीडी बोर्ड (CCD Board) ने एस वी रंगनाथ को बोर्ड का अंतरिम चेयरमैन नियुक्त किया है. वहीं नितिन बागमाने को कंपनी का अंतिरम चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर नियुक्त किया गया है. सीसीडी बोर्ड (CCD Board) की अगली बैठक 8 अगस्त को होगी. बोर्ड ने मामलों पर सलाह देने के लिए सिरिल अमरचंद मंगलदास को कानूनी परामर्शदाता नियुक्त किया है.

जानकारी के मुताबिक सीसीडी बोर्ड सभी हितधारकों के हितों की रक्षा के लिए गहराई से प्रतिबद्ध है. संवैधानिक कार्यकारी समिति में एस वी रंगनाथ, नितिन बागमने और राम मोहन को शामिल किया गया है. बता दें कि वी जी सिद्धार्थ के पत्र की प्रमाणिकता अभी तक सिद्ध नहीं हो पाई है. अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि ये बयान वीजी सिद्धार्थ की कंपनी या व्यक्तिगत होल्डिंग्स से संबंधित है.

Cafe Coffee Day के मालिक वीजी सिद्धार्थ का शव मिला

कैफे कॉफी डे के मालिक वीजी सिद्धार्थ (VG Siddhartha) का शव नेत्रावती नदी से बरामद कर लिया गया है. सिद्धार्थ सोमवार शाम से लापता थे. कर्नाटक पुलिस समेत कई टीमें उनकी तलाश कर रही थीं. नेत्रावती नदी के पास से ही सिद्धार्थ सोमवार शाम को लापता हुए थे. उनके ढूंढने के लिए जारी सर्च ऑपरेशन के दौरान उनका भावुक लेटर भी वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने कर्मचारियों से माफी मांगते हुए कहा था कि सारे वित्तीय लेनदेन के जिम्मेदार वो ही थे. इस लेटर के बाद से ही पुलिस को वीजी सिद्धार्थ के आत्मह्तया करने की आशंका थी. नेत्रावती नदी में पूरे दिन सर्च ऑपरेशन चलाए जाने के बाद आखिरकार वीजी सिद्धार्थ के शव को बरामद कर लिया गया है.

जुलाई 1996 में बेंग्लूरू के ब्रिगेड रोड से Cafe Coffee Day की शुरुआत हुई थी. बता दें कि कंपनी ने अपनी पहली कॉफी शॉप इंटरनेट कैफे के साथ खोली थी. गौरतलब है कि युवाओं को इंटरनेट के साथ कॉफी का कॉन्सेप्ट बहुत पसंद आया. CCD ने व्यवसायिक इंटरनेट के विस्तार के साथ अपने कॉफी के बिजनेस में ही रहने की रणनीति अपनाई. शुरुआती 5 वर्ष में कुछ ही स्टोर खोलने के बाद CCD आज देश की सबसे बड़ी कॉफी रिटेल चेन बन गई. मौजूदा समय में देशभर के 247 शहर में कैफे कॉफी डे के 1,758 कैफे है.

Special Coverage News
Next Story
Share it