Home > तीनों 'चिरैयाँ' लेकर करोड़ों रुपया लेकर फुर्र, सरकार इनके आकाओं का खुलासा क्यों नहीं कर रही?

तीनों 'चिरैयाँ' लेकर करोड़ों रुपया लेकर फुर्र, सरकार इनके आकाओं का खुलासा क्यों नहीं कर रही?

तो नीरव मोदी द्वारा किए गए घोटाले में जो भी राजनीतिज्ञ-नेता सम्मिलित है वह चाहे कोंग्रेस का हो या भाजपा का नाम क्यों नहीं उजागर हो रहे ?

 पूर्व आईएएस सूर्यप्रता� |  2018-02-17 13:25:58.0  |  लखनऊ

तीनों चिरैयाँ लेकर करोड़ों रुपया लेकर फुर्र, सरकार इनके आकाओं का खुलासा क्यों नहीं कर रही?

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व प्रमुख सचिव सूर्यप्रताप सिंह ने पंजाब नेशनल बेंक घोअताले पर केंद्र सरकार को जमकर लताड़ लगाईं है. उन्होंने कहा कि सरकार को उन लोंगों के नाम का खुलासा करना चाहिए जिन्होंने नीरव मोदी की मदद की है. मदद करने वाला चाहे कांग्रेसी हो या भाजपाई उसको सामने लाने की आवश्यकता है.


सूर्यप्रताप ने कहा कि सरकार के पास सीबीआई, ईडी व अन्य एजेन्शियाँ हैं, तो नीरव मोदी द्वारा किए गए घोटाले में जो भी राजनीतिज्ञ-नेता सम्मिलित है वह चाहे कोंग्रेस का हो या भाजपा का नाम क्यों नहीं उजागर हो रहे ?. आरोप-प्रत्यारोप से लोगों को मूर्ख क्यों बनाया जा रहा. तीनों 'चिरैयाँ' इसी सरकार के कार्यकाल में देश का ग़रीब का पैसा लेकर फुर्र हो गयी और अब हो रहा है छापेमारी का ड्रामा. यदि मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी , चिदम्बरम या राहुल गांधी आदि कोई भी कोंग्रेसी ज़िम्मेदार हो, उसे पकड़ो. क्यों नहीं पकड़ रहे हैं . जनता के समक्ष नाम उजागर करो, जेल भेजो. यदि आप यह नहीं करते तो वर्तमान सरकार ही नीरव मोदी, ललित मोदी व माल्या को भागने की दोषी कहलाएगी. जनता सब समझती है . मूर्ख न समझा जाए..

न भूलो, मित्रों ! अंध श्रद्धा भक्ति है.....खतरा-ए-जान...... !!


Tags:    
Share it
Top