Home > हर हिन्दू के हाथ में त्रिशूल देने वाले तोगड़िया, जान बचाने के लिए रो रहे है

हर हिन्दू के हाथ में त्रिशूल देने वाले तोगड़िया, जान बचाने के लिए रो रहे है

उत्तरप्रदेश में लांच 2017 मॉडल तो सर्वाधिक चर्चा में हैं। वहीं 2014 में लांच मॉडल मार्केट लीडर हैं।

 शिव कुमार मिश्र |  2018-01-16 16:47:48.0  |  दिल्ली

हर हिन्दू के हाथ में त्रिशूल देने वाले तोगड़िया, जान बचाने के लिए रो रहे है

प्रवीण तोगड़िया हिंदुत्व का ओल्ड वर्जन था। इस वर्जन को अब सपोर्ट नहीं मिल रहा था। आलरेडी हिंदुत्व के कई अपग्रेडेड वर्जन मार्केट में छाए हुए हैं। उत्तरप्रदेश में लांच 2017 मॉडल तो सर्वाधिक चर्चा में हैं। वहीं 2014 में लांच मॉडल मार्केट लीडर हैं। इस वजह से ओल्ड वर्जन को बाजार से हमेशा के लिए हटा रहे हैं ओल्ड वर्जन को किसी भी डिवाइस में सपोर्ट भी नहीं मिल रहा है।
तोगड़िया का वर्तमान उन हिंदुओं का भविष्य है जो आज तलवार लेकर मुसलमानों को काटने निकल जाते हैं। हर हिन्दू के हाथ में त्रिशूल देने वाला तोगड़िया आज अपनी जान बचाने रो रहा है। न जाने कितने बेगुनाह मुस्लिम इनके फैलाये नफरत के शिकार बने हैं। एक इंसान होने के नाते किसी के रोने पर दया आती है, इस पर भी आ रही है। बुजुर्ग भी हो गए हैं।
आज इनको पश्चाताप भी हो रही होगी कि जिंदगी भर मुसलमानों का डर बताता रहा पर जो मारने आदमी भेजा वो हिन्दू था। तोगड़िया डॉक्टर हैं अच्छे सर्जन भी हैं। इसी पेशा को अच्छे से करते गरीबों का इलाज करते तो आज इनकी पूजा होती। पर बोया पेड़ बबूल का आम कहाँ से होय। इससे थोड़ा सबक ले लो मेरे हिन्दू भाइयों।
मीडिया पर तंज
देखिएगा कैसे अंजना ओम कश्यप बोलेंगी कि तोगड़िया ये इल्जाम खुद को बचाने के लिए लगा रहे हैं। रुबिका बोलेगी इसके पीछे हार्दिक पटेल का हाथ है ,वे ही मिलने गए थे। रोहित सरदाना बोलेगा कांग्रेस से हाथ मिला लिया है तोगड़िया ने,अरनब राहुल गांधी से जवाब मांगेगा।
सुधीर चौधरी रात को तोगड़िया का डीएनए टेस्ट करेगा और बोलेगा तोगड़िया का डीएनए तो मोदी विरोधियों से मैच कर रहा है। मोदी को जबरन घसीटा जा रहा है।इस तरह से एक रात में मुद्दा खत्म। फिर किसी दिन किसी अनजान बीमारी से तोगड़िया भी खत्म।
लेखक विक्रम सिंह चौहान स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं ये उनके निजी विचार हैं

Tags:    
Share it
Top