Home > अपनी बात > आतंक के आका पाक पर भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक-3 का प्रचंड प्रहार

आतंक के आका पाक पर भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक-3 का प्रचंड प्रहार

 Special Coverage News |  21 Oct 2019 6:52 AM GMT  |  दिल्ली

आतंक के आका पाक पर भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक-3 का प्रचंड प्रहार

दीपक कुमार त्यागी

हर वक्त भारत में आतंकवाद को बढावा देने की फिराक में रहने वाला आतंकियों का आका नापाक पाकिस्तान अपनी कायरता पूर्ण हरकतों से कभी बाज नहीं आने वाला है. जबकि आज उसके हालात यह हैं कि वो दाने-दाने के लिए मोहताज है और बर्बादी के कगार पर पहुंच चुका हैं. लेकिन उसके बाद भी पाकिस्तान आये दिन कायरता की नई मिसालें बनाता जा रहा है. वैसे तो आतंकियों का आका पाक भारत की तरक्की से जल-भुन कर हमेशा बैठा रहता हैं. लेकिन सच्चाई यह भी है कि पाक का राजनैतिक नेतृत्व व सेना पाकिस्तान की अंदरूनी अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए, आयेदिन भारत में आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए सीजफायर का उल्लंघन करता है और फिर जब भारतीय सेना हमले का मुँहतोड़ जोरदार जवाब देती है, तो पाकिस्तान तुरंत हाथ खड़े कर विश्वसमुदाय के सामने जान बचाने के लिए गिड़गिड़ाना शुरू कर देता है. कुछ ऐसा ही नजारा एक बार फिर रविवार को देखने को मिला है, जब भारतीय सेना के जाबांज जवानों के प्रचंड प्रहार के बाद पाकिस्तान फिर से गिड़गिड़ाने लगा.

जिस तरह से पाकिस्तान सेना ने आतंकियों को भारत में घुसपैठ करवाने के उद्देश्य से कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर के गुंडी गुजरा में शनिवार रात दस से सुबह चार बजे तक फायरिंग करके आम नागरिकों को निशाना बनाया है वह निंदनीय है. पाक की इस गोलीबारी में भारतीय सेना के दो वीर जवान शहीद हो गए हैं. जबकि एक आम नागरिक की मौत हो गई है. वहीं तीन घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पाक सेना के सीजफायर उल्लंघन के बाद पाक की नापाक हरकतों का मुँहतोड़ जवाब देने के लिए भारतीय सेना ने भी पाक पर प्रचंड प्रहार करते हुए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के अंदर स्थित आतंकवादी शिविरों पर हमले किये हैं. भारतीय सेना के द्वारा यह कार्यवाही पाकिस्तान द्वारा आतंकवादियों को भारतीय सीमा क्षेत्र में घुसपैठ कराने की कोशिश को नाकाम करने के उद्देश्य से की गयी है.

यहाँ आपको बता दे कि भारतीय सेना को शनिवार रात विश्वसनीय सुत्रों से पता चला था कि पाकिस्तान के पीओके में स्थित जुरा, अथमुकम और कुंडलसाही में आतंकी लॉन्च पैड्स पर कई आतंकवादी मौजूद हैं. लेकिन जब पाकिस्तान की सेना ने उनको भारत में घुसपैठ करवाने के उद्देश्य से संघर्षविराम का उल्लंघन कर फायरिंग शुरू कर दी, तो आतंकवादियों को भारत में घुसपैठ कराने की कोशिश को हमारी सेना ने नाकाम कर दिया और भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पीओके स्थित पाक के आतंकी लॉन्चिंग पैड्स को निशाना बनाया और उन्हें नष्ट कर दिया हैं.

इस घटनाक्रम के बाद रविवार को भारतीय सेना की तरफ़ से एक बयान जारी कर कहा गया है कि पाकिस्तान ने बिना कोई उकसावे के आम भारतीय लोगों पर गोलीबारी की है. सेना के मुताबिक़ गुंडीशत गाँव और तंगधार में पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हुई है और तीन लोग ज़ख़्मी हुए हैं. सेना के बयान में कहा गया है कि इस गोलीबारी में 55 वर्ष के मोहम्मद सादिक़ मारे गए. इसके अलावा 70 वर्ष के मोहम्मद मक़बूल, 50 वर्ष के मोहम्मद शफ़ी और 22 वर्ष के युसूफ़ हामिद ज़ख़्मी हुए हैं. भारतीय सेना की तरफ़ से जारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान ने युद्धविराम उल्लंघन भारतीय इलाक़े में अपने आतंकवादियों की घुसपैठ के लिए किया था.

इसके जवाब में भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पीओके स्थित आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाकर नष्ट करके दिया हैं.

वहीं भारत के थल सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने मीडिया को बताया है कि इस कार्रवाई में पाकिस्तान के कम से कम छह से दस सैनिक मारे गए हैं. जबकि उनके तीन कैंप तबाह हो गए है. जनरल बिपिन रावत के मुताबिक इस कार्रवाई में पाकिस्तान सीमा में छह से 10 चरमपंथी आतंकी भी मारे गए हैं.

दरअसल जब से जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाया गया हैं तब पाकिस्तान का राजनैतिक नेतृत्व व पाक सेना बहुत परेशान हैं और वो अपनी आर्थिक व राजनैतिक नाकामी को छिपाने के लिए पिछले काफी वक़्त से पाक सेना सीमापार से आयेदिन भारी गोलीबारी करती रहती हैं. जिसमें भारतीय जवानों समेत कई आम नागरिक मारे गए हैं. भारतीय सेना को सरकार की ओर से जवाब देने की खुली छूट है. जिसके चलते रविवार को भारत के जवानों ने पाक स्थित आतंकियों के कैंप पर अपनी तोपों से इतने बम बरसाए कि उसने एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक की याद दिला दी. भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक-3 के द्वारा पीओके स्थित अग्रिम आतंकी लॉन्च पैड्स को ध्वस्त कर पाक को करारा जवाब दिया हैं.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top