Home > Archived > संघ को दलित और मुसलमानों से परहेज क्यो ?

संघ को दलित और मुसलमानों से परहेज क्यो ?

 महेश झालानी |  26 Oct 2017 7:43 AM GMT  |  दिल्ली

संघ को दलित और मुसलमानों से परहेज क्यो ?

धर्म निरपेक्षता और जातिवाद के खिलाफ छाती पीटने वाली आरएसएस के निर्णनायक मंडल में कोई भी मुसलमान, पादरी, पारसी और दलित चेहरा क्यो नही है ? क्या यह संगठन दलित, अल्पसंख्यको आदि से नफरत करता है ? क्या इसमे केवल ब्राह्मण और उच्च वर्गो का ही जमावड़ा है ?

सरसंघचालक
डॉक्टर केशवराव बलिराम हेडगेवार (१९२५ - १९४०)
माधव सदाशिवराव गोलवलकर (१९४० - १९७३)
मधुकर दत्तात्रय देवरस बालासाहेब देवरस (१९७३ - १९९३)
प्रोफ़ेसर राजेंद्र सिंह उपाख्य रज्जू भैया (१९९३ - २०००)
कृपाहल्ली सीतारमैया सुदर्शन सुदर्शनजी (२००० - २००९)
डॉ॰ मोहनराव मधुकरराव भागवत (२००९ -) वर्तमान में
रज्जु भैया के अलावा अब तक प्रमुख पद पर ब्राह्मण ही काबिज रहे है। किसी महिला को भी यह पद हासिल करने का गौरव नही है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top