Top
Breaking News
Home > राज्य > दिल्ली > मनीष सिसोदिया के समाने चुनावी मैदान में ताल ठोकने वाले प्रत्‍याशी की हुई मौत, भाई ने कही ये बात

मनीष सिसोदिया के समाने चुनावी मैदान में ताल ठोकने वाले प्रत्‍याशी की हुई मौत, भाई ने कही ये बात

दिल्‍ली में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मनीष सिसोदिया के खिलाफ पटपड़गंज विधानसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ा था. चुनाव में उनकी जीत तो नहीं हुई

 Sujeet Kumar Gupta |  19 Feb 2020 5:18 AM GMT  |  नई दिल्ली

मनीष सिसोदिया के समाने चुनावी मैदान में ताल ठोकने वाले प्रत्‍याशी की हुई मौत, भाई ने कही ये बात

कानपुर. कानपुर के बिल्हौर इलाके में सोमवार रात हुए सड़क हादसे में कार सवार 5 लोगों के साथ बस चालक की मौत हो गई थी. कार सवार सभी मृतक दिल्ली के रहने वाले थे. हादसे का शिकार होने सुरजीत सिंह ने हाल ही में दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के मनीष सिसोदिया के खिलाफ ताल ठोकी थी. इतना ही नहीं, निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले सुरजीत को 215 वोट मिले थे और वह छठे नंबर पर रहे थे.

भाई ने कही ये बात

हादसे की जानकारी पर कानपुर पहुंचे उनके बड़े भाई राजेश सिंह ने पोस्टमार्टम हाउस में बताया कि छोटा भाई सुरजीत राजनीति में बहुत अधिक रुचि रखता था. वह हाल ही में दिल्‍ली में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मनीष सिसोदिया के खिलाफ पटपड़गंज विधानसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ा था. चुनाव में उनकी जीत तो नहीं हुई, लेकिन उन्होंने छठा स्थान जरूर हासिल किया था. भाई ने बताया कि सुरजीत सभी के दुख-सुख में शामिल होते थे और लोगों की सहायता करना भी उनका स्वभाव था. साथ ही उन्‍होंने कहा कि सुरजीत अपने दोस्तों के साथ अपनी कार से प्रतापगढ़ शादी में शामिल होने गया था. हालांकि शादी में जाने से पूर्व घर पर मां ने तबीयत खराब होने का हवाला देते हुए रोका था, लेकिन वह नहीं माना.

ऐसे जीते सिसोदिया

दिल्‍ली चुनाव में मनीष सिसोदिया को 69974, भाजपा के रविंदर सिंह नेगी को 66703, कांग्रेस के लक्ष्‍मण रावत को 2767, बसपा के राकेश को 665, जनमत पार्टी के सुरेंद्र गुप्‍ता को 321 और सुरजीत को 215 वोट मिले थे।

ऐसे हुआ था हादसा

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कानपुर के बिल्हौर स्थित मकनपुर कस्बे में सोमवार देर रात एक अनियंत्रित रोडवेज बस ने एसयूवी कार की टक्कर मार दी थी जिसमें छह लोगों की मौत हो गई। जबकि 20 लोग घायल हुए हैं। पुलिस के अनुसार रात में जिस वक्त हादसा हुआ, उस समय बिहार की बस की रफ्तार करीब 100 किमी प्रति घंटा थी और फार्च्यूनर की रफ्तार 120 किमी प्रति घंटे से ऊपर थी। बस के चालक को झपकी लगते ही बस अनियंत्रित होकर दूसरी दिशा में चली गई और फॉर्च्यूनर से टकरा गई।

बातदें कि बिहार स्टेट ट्रांसपोर्ट की वॉल्वो बस आगरा से 40 यात्रियों को लेकर बिहार के मुजफ्फरपुर जा रही थी। वहीं, लखनऊ से तेज रफ्तार एसयूवी कार दिल्ली की ओर जा रही थी। सोमवार देर रात करीब 12:45 बजे रोडवेज बस अचानक अनियंत्रित हो गई और दूसरी लेन पर चल रही कार को टक्कर मारते हुए रेलिंग तोड़कर पुल से नीचे जा गिरी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के परखचे उड़ गए। कार सवार पांच और रोडवेज के ड्राइवर ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। देर रात पुलिस ने बचाव अभियान चलाया और बस में फंसे यात्रियों को किसी तरह निकाला।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it