Top
Breaking News
Home > राज्य > गुजरात > गुजरात में रुपाणी सरकार का यू-टर्न, अब 17 नवंबर को होगा बिन सचिवालय एग्जाम

गुजरात में रुपाणी सरकार का यू-टर्न, अब 17 नवंबर को होगा बिन सचिवालय एग्जाम

 Special Coverage News |  17 Oct 2019 3:47 AM GMT  |  अहमदाबाद

गुजरात में रुपाणी सरकार का यू-टर्न, अब 17 नवंबर को होगा बिन सचिवालय एग्जाम

गुजरात में सरकार के बिन सचिवालय क्लर्क और ऑफिस असिस्टेंट परीक्षा रद्द कर दी गई थी. इसके बाद छात्रों के विरोध को देखते हुए गुजरात सरकार ने आज यू-टर्न ले लिया है. सरकार ने ऐलान किया कि इस परीक्षा में 12वीं पास उम्मीदवार भी भाग ले सकते हैं. साथ ही बताया कि इस परीक्षा के लिए 17 नवंबर की तरीख तय की गई है.

क्या है पूरा मामला

गुजरात सरकार ने बयान जारी किया था कि बिन सचिवालय क्लर्क और ऑफिस असिस्टेंट के इम्तिहान में 12वीं पास छात्र हिस्सा नहीं ले सकेंगे. छात्रों को विरोध को देखते हुए गुजरात सरकार ने अपने इस फैसले को रद्द कर दिया. उन्होंने कहा कि अब 12वीं पास उम्मीदवार भी परीक्षा में हिस्सा ले सकेंगे. साथ ही गुजरात सरकार के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने परीक्षा की नई तारीखों को ऐलान करते हुए कहा कि ये परीक्षा 17 नवंबर को आयोजित की जाएगी.

कांग्रेस के निशाने पर सरकार

परीक्षा रद्द करने के बाद से सरकार विपक्ष के निशाने पर थी. छात्रों के विरोध को देखते हुए उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बिन सचिवालय क्लर्क और ऑफिस असिस्टेंट की परीक्षा को लेकर कहा कि अब यह 17 नवंबर को आयोजित होगी. परीक्षा को लेकर जितने लोगों ने भी फॉर्म भरा था, वे परीक्षा दे पाएंगे.

दस लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने भरा फॉर्म

जानकारी के अनुसार, बिन सचिवालय क्लर्क की परीक्षा को लेकर छात्र भी काफी असंतुष्ट थे, जिसके बाद सरकार ने यू-टर्न लेते हुए ये ऐलान किया है. बताया जा रहा है कि बिन सचिवालय क्लर्क और ऑफिस असिस्टेंट के इम्तिहान को लेकर पूरे गुजरात से करीब दस लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने फॉर्म भरा है. वहीं इससे पहले भी दो बार अलग-अलग कारणों की वजह से परीक्षा को रद्द किया गया था. ऐसे में एक बार फिर परीक्षा रद्द होने के बाद उम्मीदवारों में भारी नाराजगी नजर आ रही थी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it