Top
Home > राज्य > हरियाणा > Haryana Election Results: केजरीवाल के लिए बड़ा झटका, AAP का सूपड़ा साफ

Haryana Election Results: केजरीवाल के लिए बड़ा झटका, AAP का सूपड़ा साफ

आम आदमी किसी सीट पर न तो आगे चल रही है और न ही हरियाणा में कोई उपस्थिति दर्ज करती दिख रही है।

 Special Coverage News |  24 Oct 2019 7:26 AM GMT  |  दिल्ली

Haryana Election Results: केजरीवाल के लिए बड़ा झटका, AAP का सूपड़ा साफ
x

नई दिल्ली : हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने मजबूत उपस्थिति का दावा किया था। हालांकि, अभी तक के चुनाव नतीजे केजरीवाल के दिल्ली से बाहर पैर जमाने की महत्वाकांक्षा पर पानी फेर सकता है। सुबह 11 बजे तक के रुझानों में आम आदमी किसी सीट पर न तो आगे चल रही है और न ही हरियाणा में कोई उपस्थिति दर्ज करती दिख रही है।

हरियाणा के आंकड़ों से केजरीवा होंगे निराश

सुबह 11.15 बजे तक के चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार, आम आदमी पार्टी को सिर्फ 0.45% वोट ही मिले। इससे पहले लोकसभा चुनावों में भी पार्टी को मुंह की खानी पड़ी थी। दिल्ली विधानसभा में बंपर बहुमत के साथ सत्ता में आनेवाली पार्टी दिल्ली में एक भी लोकसभा सीट पर जीत दर्ज नहीं कर सकी।

केजरीवाल के घरेलू राज्य में बेदम हुई आप

दिल्ली से सटे हरियाणा में आम आदमी पार्टी अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश लगातार कर रही है। हरियाणा सीएम अरविंद केजरीवाल का गृह राज्य भी है। प्रदेश की कुल 90 में से 46 विधानसभा सीटों पर आप ने उम्मीदवार उतारे, लेकिन जीत किसी को मिलती नहीं दिख रही। हालांकि, पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने में न तो सीएम केजरीवाल ने कोई ज्यादा उत्साह दिखाया और न ही पार्टी के किसी अन्य वरिष्ठ नेता ने।

प्रदेश में दुष्यंत चौटाला बन सकते हैं किंगमेकर

हरियाणा विधानसभा चुनाव के वोटों की गिनती जारी है। रुझानों को देखकर जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के दुष्‍यंत चौटाला ने त्रिशंकु विधानसभा की उम्‍मीद जताई है। दुष्‍यंत ने कहा, 'न तो बीजेपी और न ही कांग्रेस 40 सीटों को पार कर पाएगी। सत्‍ता की चाबी जेजेपी के पास रहेगी। शुरुआती नतीजों को देखकर हरियाणा के जींद में मीडिया से बात करते हुए दुष्‍यंत ने कहा, 'हरियाणा की जनता का प्‍यार मिल रहा है। नतीजे बदलाव की निशानी हैं। बीजेपी के लिए 75 पार तो फेल हो गया अब यमुना पार करने की बारी है।'

अब तक के नतीजों में हरियाणा में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिलता दिखाई दे रहा है, लिहाजा सरकार बनाने की कवायद भी तेज हो गई है. जेजेपी किंगमेकर की भूमिका में उभर रही है, ऐसे में सबकी नजर दुष्यंत चौटाला पर हैं. सूत्रों के मुताबिक, जेजेपी ने सीएम पद की शर्त के साथ कांग्रेस को समर्थन का ऑफर दिया है. इस बीच कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भूपेंद्र सिंह हुड्डा से बात कर इस मसले पर फ्री हैंड दिया है. यानी हुड्डा से उन्होंने अपने हिसाब से फैसला लेने का अधिकार दिया है.

हरियाणा में बीजेपी को बहुमत मिलता दिखाई नहीं दे रहा है. जिसके बाद सरकार बनाने की कवायद भी तेज होने लगी है. जेजेपी ने जहां सीएम पद की शर्त के साथ कांग्रेस को समर्थन का ऑफर दे दिया है. वहीं, बीजेपी भी जेजेपी से संपर्क साध रही है. इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को बीजेपी हाईकमान ने दिल्ली बुलाया है. खट्टर आज दोपहर ही दिल्ली पहुंच रहे हैं.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it