Home > हेल्थ > युवाओं में हार्ट अटैक से मौत का ग्राफ पहुंचा दोगुने से ऊपर : डॉ अशोक सेठ

युवाओं में हार्ट अटैक से मौत का ग्राफ पहुंचा दोगुने से ऊपर : डॉ अशोक सेठ

 Special Coverage News |  6 Oct 2019 10:23 AM GMT  |  दिल्ली

युवाओं में हार्ट अटैक से मौत का ग्राफ पहुंचा दोगुने से ऊपर : डॉ अशोक सेठ

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट नई दिल्ली के चेयरमैन व पद्मश्री डॉ अशोक सेठ ने शनिवार को कहा कि लगातार बढ़ रहा प्रदूषण हृदय पर गहरा प्रभाव डाल रहा है। इससे सालाना 25 फ़ीसदी तक मरीज दम तोड़ रहे हैं।

डॉ अशोक सेठ ने कहा कि 20 वर्षों के आंकड़ों पर गौर करें तो युवाओं में हार्ट अटैक से मौत का ग्राफ दोगुने से ऊपर पहुंच गया है। एएमयू के जेएन मेडिकल कॉलेज में पत्रकारों से वार्ता करते हुए डॉ अशोक सेठ ने कहा कि स्मोकिंग पर प्रतिबंध लगाना जरूरी है।सबसे ज्यादा मौतों का कारण यही बन रही है।

प्रदूषण पर सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। विदेशों में जहां हार्ट मरीजों की संख्या 50 फीसदी तक घट गई है। वहीं भारत में 300 फ़ीसदी तक बढ़ गई है। वर्तमान में हार्ट के सबसे ज्यादा मरीज 40 वर्ष से कम उम्र के हैं। रिपोर्ट के अनुसार 60 वर्ष से अधिक की आबादी का अनुपात मौजूदा 11.5% से बढ़कर लगभग 22% हो जाने का अनुमान है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top