Home > इक्वाडोर: भीषण भूकंप के 13 दिन बाद मलबे से जिंदा निकला शख्स

इक्वाडोर: भीषण भूकंप के 13 दिन बाद मलबे से जिंदा निकला शख्स

 Special News Coverage |  2016-05-01 06:45:32.0

इक्वाडोर: भीषण भूकंप के 13 दिन बाद मलबे से जिंदा निकला शख्स

क्विटो: दक्षिण अमेरिकी देश इक्वाडोर में आए भीषण भूकंप के लगभग 13 दिन बाद बचावकर्मियों ने 72 वर्ष के एक व्यक्ति को जीवित निकाला है। इस व्यक्ति के जीवित निकाले जाने की घोषणा वेनेजुएला ने की है। वेनेजुएला के क्विटो स्थित दूतावास ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि इक्वाडोर के दौरे पर आए वेनेजुएला के खोजी दल ने मैनुअल वास्केज का पता लगाया। वह 7.8 तीव्रता के भीषण भूकंप के बाद से मलबे में दबे थे।

दूतावास ने कहा कि खोजी दल ने पाया कि वास्केज मनाबी प्रांत में शुक्रवार को आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त एक इमारत में आवाजें कर रहे थे। उस समय यह दल ढांचागत समस्याओं का निरीक्षण कर रहा था। वास्केज को सांस की समस्या हो रही है। फ़िलहाल उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


वास्केज को गुर्दा संबंधी समस्या और अंगूठे टूट जाने के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके शरीर में पानी की भी कमी हो गई थी और वह बेहद खोए-खोए से हैं।

बता दें बीते 16 अप्रैल को इक्वाडोर में आया यह भूकंप यहां पिछले कई दशकों का सबसे भयावह भूकंप था। इसके कारण इमारतें ढह गईं, सड़कें क्षतिग्रस्त हो गईं और तट के पास अन्य अवसरंचनाओं को भारी नुकसान पहुंचा। बता दें इस भूकंप में 660 लोग मारे गए थे।

भूकंप के बाद इक्वाडोर ने विभिन्न देशों से सैकड़ों बचाव दलों, चिकित्सकों, नर्सों, दमकल कर्मियों और अन्य सहायता कर्मियों का स्वागत किया।

राष्ट्रपति राफेल कोरिया ने भूकंप से प्रभावित हुए देश के पुनर्निर्माण पर आने वाले खर्च को लगभग तीन अरब डॉलर आंकते हुए इसकी अदायगी के लिए कड़े आर्थिक उपायों की घोषणा की है।

Tags:    
Share it
Top