Home > पूर्व ISI चीफ ने कबूला, 'मुंबई हमले में हमारे लोग शामिल थे'

पूर्व ISI चीफ ने कबूला, 'मुंबई हमले में हमारे लोग शामिल थे'

 Special News Coverage |  2016-05-10 09:02:19.0

shuja pasha


वॉशिंगटन : मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के पूर्व प्रमुख शुजा पाशा ने माना है कि 2008 मुंबई हमले में उनके लोग शामिल थे।

अमेरिका में पाकिस्तान के तत्कालीन राजदूत हुसैन हक्कानी ने अपनी किताब इंडिया वर्सेज पाकिस्तान में यह खुलासा किया है। यह किताब अगले सप्ताह पब्लिश होने वाली है। इस किताब में दावा किया गया है कि पाशा ने कहा था कि मुंबई हमले में लोग हमारे थे, लेकिन ऑपरेशन हमारा नहीं था।


हक्कानी के अनुसार, इस किताब के जरिए उनका मकसद यह बताना है कि दोनों देशओं ने 69 सालों का ठीक से इस्तेमाल नहीं किया। किताब के जरिए हक्कानी ने कहा है कि हमले के 8 साल बाद भी साजिशकर्ता को सजा दिलाने में नाकाम होने के बाद पाकिस्तान ने एक और मामला खड़ा कर दिया है।

उन्होने कहा कि दुनिया के अन्य देश विदेश नीति के तहत एक-दूसरे के साथ कैसी परिपक्वता दिखाते है। लेकिन भारत-पाकिस्तान के मामले में कभी भी ऐसा नहीं देखा गया। इस रिश्ते में यह बचकाना और भावावेश का मामला है। वो इश कोशिश में है कि इस रिश्ते में एक चेतना आए और भावावेश कम हो।

हक्कानी के मुताबिक मुंबई हमले में आईएसआई की संलिप्तता की पुष्टि हो जाने के बाद भी पाकिस्तानी सरकार ने कोई ऐक्शन नहीं लिया। हक्कानी ने कहा, 'यह सच है कि 26/11 हमले के दोषियों के खिलाफ हमने कोई कार्रवाई नहीं की। इस मामले में हमें सभी तरह के प्रमाण मुहैया कराए गए थे। ये सबूत केवल इंडिया की तरफ से ही नहीं बल्कि अमेरिका ने भी सौंपे थे। अमेरिका ने इस हमले को लेकर सीधे पाकिस्तान पर उंगली उठाई थी लेकिन दोषियों के खिलाफ कुछ भी नहीं हुआ।' हक्कानी पाकिस्तान में 2011 से राजद्रोह का आरोप झेल रहे हैं।

Tags:    
Share it
Top