Home > PAK: सिख की पगड़ी उतारने पर ईशनिंदा का केस दर्ज

PAK: सिख की पगड़ी उतारने पर ईशनिंदा का केस दर्ज

 Special News Coverage |  2016-05-02 12:51:12.0

PAK: सिख की पगड़ी उतारने पर ईशनिंदा का केस दर्ज

इस्लामाबाद: पंजाब प्रांत में एक सिख की पगड़ी का अपमान करने का मामला सामने आया है। इस मामले में एक परिवहन कंपनी के 5 कर्मी व एक बस टर्मिनल के मालिक पर ईशनिंदा कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है। शिकायत करने वाले मुल्तान के निवासी महिंद्र पाल सिंह है।

शिकायत करने वाले शख्स का नाम महिंदर पाल सिंह (29) है। वे मुल्तान का रहने वाले हैं। महिंदर ने एक न्यूज को फोन पर बताया कि वे फैसलाबाद से मुल्तान ट्रैवल कर रहे थे। कोहिस्तान-फैसल मूवर्स कंपनी की ये बस दिजकोट के पास खराब हो गई। ड्राइवर ने किसी तरह फिर से फिर से बस स्टार्ट की और लेकिन इसकी स्पीड काफी कम (30 Kmph) थी। दिजकोट से चिचावतनी पहुंचने में इसे पांच घंटे का समय लगा।


टर्मिनल पहुंचने पर महिंदर और कुछ दूसरे पैसेंजर्स ने ट्रांसपोर्ट कंपनी में स्टाफ की शिकायत की और आगे जाने के लिए दूसरी बस की डिमांड की।इस बात पर दोनों पक्षों में झगड़ा होने लगा। बस कंपनी के पांच इम्प्लॉइज ने ओनर के साथ मिलकर महिंदर को पीटना शुरू कर दिया। महिंदर के मुताबिक, झगड़े के दौरान एक राशिद गुर्जर नाम के एक शख्स ने उनकी पगड़ी जमीन पर गिरा दी। पगड़ी को सिख धर्म की पवित्र माना गया है और इसे नीचे फेंकना इसका अपमान माना जाता है।

महिंदर की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ ईशनिंदा कानून के तहत मामला दर्ज किया है। पाचों आरोपियों के नाम बकीर अली, राशिद गुर्जर, फैज आलम, शकील और नवल है। इनके खिलाफ पाकिस्तान पीनल कोड के सेक्शन 295, 148 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है। टर्मिनल ओनर हाजी रियासत फरार है, जिसे पकड़ने के लिए पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है।

कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान की खैबर पख्तूनख्वाह असेंबली के सिख मेंबर सोरन सिंह की हत्या कर दी गई। सोरन सिंह पाकिस्तान के सीनियर पॉलिटिशियन और खैबर पख्तूनख्वाह में माइनॉरिटीज अफेयर्स के स्पेशल असिस्टेंट थे।

Tags:    
Share it
Top