Home > पेशावर हमला के बाद पाकिस्तान ने किये 182 मदरसे सील, 4 मौलवी हिरासत में

पेशावर हमला के बाद पाकिस्तान ने किये 182 मदरसे सील, 4 मौलवी हिरासत में

 Special News Coverage |  2016-02-02 02:07:20.0

102222-303540-pakkids7

इस्लामाबाद

पाकिस्तान में पेशावर के सैनिक स्कूल पर 2014 के आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तानी अधिकारियों ने आतंकवाद में कथित रूप से शामिल मदरसों के खिलाफ देशव्यापी अभियान में 182 मदरसों को बंद किया है। एसोसिएटेड प्रेस ऑफ पाकिस्तान (एपीपी) ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि पंजाब, सिंध और खबर पख्तूनख्वा के मदरसों को बंद किया गया है। क्योंकि चरमपंथ को बढ़ावा देने में उनकी कथित संलिप्तता थी। चरमपंथी ही बिद्रोह बनाता है।



मिली खबर के अनुसार यह कार्रवाई राष्ट्रीय कार्रवाई योजना (एनएपी) के तहत की गई। 2014 के दिसंबर में सेना के स्कूल पर आतंकवादी हमले के बाद एनएपी बनाई गई थी। इस बीच, आतंकवादी गतिविधियों के लिए वित्तपोषण पर अंकुश लगाने के लिए स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) ने अभी तक 126 बैंक खातों में तकरीबन एक अरब रूपये के परिचालन पर रोक लगा दी है। इन खातों का संबंध प्रतिबंधित आतंकवादी समूहों के साथ था।


कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने भी 25 करोड़ 10 लाख रुपये नकद बरामद किए। सरकार ने 8,195 लोगों का नाम चौथी अनुसूची में डाल दिया है जबकि 188 लोगों का नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट पर डाला गया है। 2052 कट्टर आतंकवादियों की गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है। इसी तरह सरकार ने संदिग्ध आतंकवादियों के खिलाफ 1026 मामले दर्ज किए हैं और 230 संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। देश में 64 प्रतिबंधित संगठन हैं।

Tags:    
Share it
Top