Home > बांग्लादेश: खालिदा जिया के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज

बांग्लादेश: खालिदा जिया के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज

 Special News Coverage |  2016-01-25 13:49:10.0

Khaleda Zia


ढाका : पाकिस्तान के खिलाफ 1971 के मुक्ति संग्राम के शहीदों के विरुद्ध कथित ‘निंदात्मक टिप्पणियां’ करने पर बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री एवं विपक्ष की नेता बेगम खालिदा जिया के विरुद्ध देशद्रोह का एक मामला दर्ज किया गया है। एक अदालती अधिकारी ने बताया कि उनकी गिरफ्तारी की अपील करते हुए सोमवार सुबह मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट (ढाका) की अदालत में उनके विरुद्ध मामला दर्ज किया गया।

अधिकारी ने बताया कि मजिस्ट्रेट ने गिरफ्तारी वारंट जारी करने की अपील पर सुनवाई करने के आदेश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष 21 दिसंबर को एक परिचर्चा में 70 वर्षीय खालिदा ने 1971 के मुक्ति संग्राम में मृतकों की संख्या पर ‘शंका जताई थी।’


बांग्लादेश नेशनल पार्टी की प्रमुख खालिदा ने कहा था कि इसपर विवाद है कि मुक्ति संग्राम में कितने लोग शहीद हुए थे। विवादों पर ढेर सारी किताबें और दस्तावेज भी हैं। खालिदा की बीएनपी कट्टरपंथी जमात-ए-इस्लामी की अहम सहयोगी पार्टी है। जमात ने पाकिस्तान से बांग्लादेश की आजादी का विरोध किया था।

सत्तारूढ़ अवामी लीग, 1971 के मुक्ति संग्राम में भाग लेने वाले लोग और उस संग्राम में शहीद हुए लोगों के परिवार ने जिया की टिप्पणी पर तीखी टिप्पणी की थी। कुछ ने उन्हें ‘पाकिस्तान कि एजेंट’ तक बताया था। कल ही गृहमंत्रालय ने पूर्व प्रधानमंत्री के विरुद्ध देशद्रोह का मामला दर्ज कराने के लिए मंजूरी प्रदान की थी।

सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता मुमताज उद्दीन अहमद मेहदी ने 27 दिसंबर को आग्रह किया था कि बांग्लादेश की दंड संहिता की धारा 123 (ए) के तहत खालिदा के विरुद्ध देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाए।

उस समय मजिस्ट्रेट ने पुलिस को आरोप की जांच करने का आदेश दिया था। बांग्लादेश के कानून के तहत ऐसा करना अनिवार्य है। धारा 123 (ए) के तहत ‘राज्य (बांग्लादेश) के सृजन की निंदा करने और उसकी संप्रभुता समाप्त करने की वकालत करने’ के लिए ‘कैद बामुशक्कत’ का प्रावधान है जो ‘10 साल तक के लिए दी जा सकती है और जुर्माना भी’ लगाया जा सकता है।

Tags:    
Share it
Top