Top
Home > Archived > श्री श्री को ब्रिटेन की हाउस ऑफ कॉमंस को संबोधित करने का निमंत्रण

श्री श्री को ब्रिटेन की 'हाउस ऑफ कॉमंस' को संबोधित करने का निमंत्रण

 Special News Coverage |  14 March 2016 10:30 AM GMT

श्री श्री को ब्रिटेन की 'हाउस ऑफ कॉमंस' को संबोधित करने का निमंत्रण

नई दिल्ली। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने रविवार को 'आर्ट ऑफ लिविंग' के संस्थापक श्री श्री रवि शंकर को ब्रिटेन की संसद के सदन 'हाउस ऑफ कॉमंस' को संबोधित करने का निमंत्रण दिया। कैमरन ने अपनी कंजरवेटिव पार्टी के सांसद मैथ्यू ऑफर्ड के माध्यम से निमंत्रण भेजा है। ऑफर्ड ने यहां एओएल के विश्व सांस्कृतिक महोत्सव में भाग लिया। आप जब भी अगली बार ब्रिटेन आएं, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने आपको 'हाउस ऑफ कॉमंस' को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया है।


कैमरन ने अपने संदेश में कहा है कि लोग कहते हैं कि दुनिया को कोई अकेले बदल नहीं सकता लेकिन श्री श्री इसकी शुरुआत भी कर चुके हैं। श्री श्री रविशंकर की संस्था 'आर्ट आफ लिविंग' के तीन दिवसीय विश्व सांस्कृतिक महोत्सव का शांति और सद्भाव से मिल जुलकर रहने के संदेश के साथ रविवार को समापन हो गया। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम का समापन वंदे मातरम गीत के साथ हुआ, जिसे एक साथ 12 लाख लोगों ने आवाज दी। समापन समारोह में आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने उपस्थित लोगों को ध्यान का अभ्यास कराया।

रविशंकर ने समारोह में आए और इसे सफल बनाने में योगदान करने वाले सभी लोगों का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि महोत्सव के आखिरी दिन मैं आपसे बस यही आसान बात कहना चाहूंगा कि हमेशा याद रखें कि हम विश्व मानव हैं। हम पहले विश्व के नागरिक हैं। एक साथ मिलकर हम वैश्विक परिवार बनाते हैं। हमें शांति, सौहार्द और मानवीय मूल्यों का संदेश हर हाल में फैलाना चाहिए।

अंतिम दिन समारोह में हिस्सा लेने वालों में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, केंद्रीय संचार मंत्री रविशंकर, वरिष्ठ बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी शामिल थे। बांग्लादेश के युवा एवं खेल मामलों के मंत्री बीरेन सिकदर और नाइजीरिया के पूर्व राष्ट्रपति ओलुसेजन ओब्सानियो ने भी कार्यक्रम में शिरकत की।

समारोह के अंतिम दिन 4600 कलाकारों ने 30 तरह के नृत्य पेश किए और एक हजार गायकों ने रविंद्र संगीत पेश किया। पाकिस्तान के सूफी नर्तकों का कार्यक्रम और अर्जेंटीना के कलाकारों का टैंगो नृत्य भी अंतिम दिन के आकर्षणों में से एक रहा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it