Home > घडी बनाने पर हुई थी इस स्टूडेंट की गिरफ्तारी, अब ओबामा, फेसबुक और Google से मिला निमंत्रण

घडी बनाने पर हुई थी इस स्टूडेंट की गिरफ्तारी, अब ओबामा, फेसबुक और Google से मिला निमंत्रण

 Special News Coverage |  2015-09-17 15:22:39.0

17CLOCK2-facebookJumbo


वाशिंगटन: : अमेरिका के टेक्सास में घड़ी बनाकर स्कूल लाने वाले एक 14 साल के अहमद मोहम्मद नाम का एक स्टूडेंट सोमवार को डिजिटल घड़ी बनाकर स्कूल ले गया था। लेकिन कुछ ही देर बाद उसे टेक्सास पुलिस ने घड़ी को गलतफहमी से बम समझने के कारण अरेस्ट कर लिया और घड़ी के बारे में काफी पूछताछ की। हालांकि, बाद में उसे छोड़ दिया गया। इधर स्कूल अथॉरिटी ने बच्चे को तीन दिन के लिए सस्पेंड भी कर दिया।

क्या है मामला :


अहमद इरविंग के मैकआर्थर हाई स्कूल में पढ़ता है। उसे इजीनियरिंग और गैजेट्स में दिलचस्पी है। अहमद ने बताया कि स्कूल में इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट के तहत वो घड़ी बनाकर लाया था। स्कूल में एक साइंस टीचर ने उसकी तारीफ भी की थी। अहमद ने बताया कि डेमो के दौरान दूसरी टीचर ने घड़ी में बीप की आवाज सुनी और पुलिस बुला लिया। उन्हें लगा कि यह एक बम है।

बता दें कि घटना के बाद पुलिस अफसर उसे हथकड़ी पहनाकर जुवेनाइल सेंटर ले गए और उससे पूछताछ की। उसके फिंगरप्रिंट भी लिए गए। अफसरों ने बताया कि घड़ी में वायर्स और बीप साउंड के कारण स्कूल टीचर को यह बम जैसा लगा था हालांकि, बाद में उसे छोड़ दिया गया।

NM_16Ahmed1


ओबामा का निमंत्रण
इस घटना से देश में आक्रोश फैल गया और राष्ट्रपति बराक ओबामा, राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रैटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन और फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने उसके समर्थन में संदेश दिया।

ओबामा ने ट्वीट कर कहा ‘अहमद, यह अच्छी घड़ी है। व्हाइट हाउस लाना चाहते हो? हम लोगों को आपके जैसे अन्य बच्चों को विज्ञान को पसंद करने के लिए प्रेरित करना चाहिए। यही अमेरिका को महान बनाता है।’ व्हाइट हाउस प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा कि अन्य लोगों की तरह ओबामा भी इस तरह की खबरों से हैरान थे।




हिलेरी क्लिंटन ने अहमद का समर्थन करते हुए ट्वीट किया ‘मान्यताएं और भय हमें सुरक्षित नहीं रखते, वे हमें पीछे ढकेलते हैं। अहमद, ऐसे ही काम करते रहिए।’

जुकरबर्ग ने भी सार्वजनिक तौर पर मोहम्मद की तारीफ की। उन्होंने कहा ‘अहमद, अगर आप कभी भी फेसबुक आना चाहें तो मैं आपसे मिलना चाहूंगा।’

Mark Zuckerberg

गूगल ने भी मोहम्मद को अपने विज्ञान मेले में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया है और आग्रह किया है ‘अपनी घड़ी को यहां लाओ।






style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




अहमद के पिता ने कहा,मोहम्मद नाम होने से गिरफ्तार किया गया
अहमद के फैमिली के लोगो का कहना है कि उसे इलेक्ट्रॉनिक चीजों में काफी इंटरेस्ट है। वह रेडियो बना चुका है और अपना गो-कार्ट भी खुद ही ठीक करता है। रविवार को उसने सोने से पहले सर्किट बोर्ड, पावर सप्लाई और बाकी सामान के साथ घड़ी बनाई। इसके बाद अगले दिन उसे अरेस्ट करके स्कूल से तीन दिन के लिए सस्पेंड कर दिया गया।

उसके पिता मोहम्मद अलहसन मोहम्मद ने कहा कि स्कूल अथॉरिटी और पुलिस ने बच्चे के नाम और धर्म के कारण ऐसा बर्ताव किया। उन्होंने कहा, "वह सिर्फ अच्छी चीजें बनाना चाहता है। लेकिन उसका नाम मोहम्मद है और 11 सितंबर हमले की वजह से उसे अरेस्ट किया गया।


ताज़ा खबरों से जुड़े रहने के लिए फेसबुक पर लाइक करें - Facebook
ट्विटर पर फॉलो करें - Twitter
स्पेशल कवरेज न्यूज़ के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

Share it
Top